Fire
Representative Picture

 गुना (मध्यप्रदेश).  गुना (Guna) जिले के राघोगढ़ थानांतर्गत एक गांव में चल रहे पारिवारिक विवाद के बाद उनमें से किसी ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर मंगलवार शाम कथित रूप से घर में आग (Fire) लगा दी, जिसकी चपेट में आने से एक ही परिवार के नौ लोग गंभीर रूप से झुलस गये, जिनमें पांच वर्षीय एक बच्चा भी शामिल है।

राघोगढ़ थाना प्रभारी मदन मोहन मालवीय ने बताया कि राघोगढ़ थाना अंतर्गत बिदौरिया गांव निवासी जितेंद्र केवट और जामनेर थाने के अंतर्गत ग्राम मंशाखेड़ी निवासी उसकी पत्नी गोलू केवट के बीच कुछ समय से झगड़ा चल रहा था। उन्होंने कहा कि मंगलवार को गोलू केवट के परिजन उसके पति को समझाने के लिए बिदौरिया गांव आये हुए थे। इसी दौरान मंगलवार शाम सात बजे के लगभग दोनों परिवारों में कहासुनी हुई और अचानक इनमें से किसी ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर घर में आग लगा दी। मालवीय ने बताया कि इस आगजनी में महिला के पति जितेंद्र के परिवार के नौ लोग गंभीर रूप से झुलस गए। इनमें पांच वर्ष का एक बच्चे की हालत नाजुक बनी हुई है। उन्होंने कहा कि सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मालवीय ने बताया कि आग कैसे लगी, ये अभी साफ नहीं हो पाया है। मामले की जांच जारी है और उसके बाद चीजें साफ हो पायेंगी।