Shivraj and Kamal Nath

    भोपाल: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना से हुई मौतों को लेकर राजनीति गरमाई हुई है। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) और कांग्रेस (Congress) के बीच वार-पलटवार  शुरू है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने द्वारा कोरोना को ‘इंडियन वैरियंट’ (Indian Variant) कहने को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Shivraj Singh Chauhan) लगातार हमलावर है। इसी बीच गृहराज्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने कमलनाथ वैरियंट (Kamalnath Variant) बोल कर शुरू लड़ाई को और तेज कर दिया है। 

    झूठ बोलकर आग लगाने की कोशिश 

    मुख्यमंत्री चौहान ने कांग्रेस नेता के दावे को लेकर उन पर हमला बोला है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट करते हुए लिखा, “कांग्रेस के झूठ का स्तर तो देखिये! प्रदेश अध्यक्ष श्री कमलनाथ जी अपने बयान में कह रहे हैं कि अभी मैं रामचंद्र अग्रवाल जी से मिलकर आया हूं, उन्होंने मुझे बताया कि उनकी मृत्यु नकली रेमडेसिविर से हुई है। अब मृत्यु के बाद रामचंद्र जी बता रहे हैं कि उनकी मृत्यु कैसे हुई है।”

    उन्होंने अन्य ट्वीट में लिखा, “आप अब कांग्रेस के स्तर का अंदाजा लगा लीजिये। येनकेन प्रकारेण प्रदेश में आग लगाओ, सरकार को बदनाम करो, कांग्रेस इस काम में लगी हुई है।कांग्रेस से सावधान रहने की जरूरत है। ऐसी झूठी कांग्रेस से प्रदेश को बचाने की जरूरत है।”

    यह कमलनाथ वेरिएंट 

    कोरोना के भारतीय वेरिएंट कहने पर नरोत्तम मिश्रा ने कमलनाथ पर तंज कसा है। उन्होंने कहा, “इतिहास उठाकर देखें,देश के प्रति हमेशा अपनों ने ही विश्वासघात किया है। देश की प्रतिष्ठा पर सवाल करने वाला ‘कमलनाथ वेरिएंट’ नया है,जो भारत के अपमान की बात करता है। अफसोस है कि पद की लोलुपता में कमलनाथ जी अपना पद बचाने के लिए अब देश को भी बदनाम करने से नहीं छोड़ रहे हैं।”

    ज्ञात हो कि, पिछले कई दिनों में कमलनाथ राज्य में हुई कोरोना मौतों पर सवाल उठा रहे हैं। पिछले दिनों उन्होंने दावा करते हुए कहा था कि, राज्य के अंदर मार्च-अप्रैल में  27 से ज्यादा मौत हुई है। जिसमें से करीब 80 प्रतिशत मौत कोरोना से हुई है। इसी के साथ उन्होंने सरकार पर मौत के आकड़ो को छुपाने का आरोप भी लगाया था।