अंकल प्लीज मेरे पापा को छोड़ दो’, बेटा रोता रहा और बीच सड़क पर पुलिस शख्स को पीटती रही, देखें Video

    मध्य प्रदेश. इंदौर में कोरोना का (Coronavirus) कहर जारी है। प्रशासन द्वारा लोगों को कोरोना के गाइडलाइन (Coronavirus Guidelines) का पालन करने के निर्देश दिए जा रहे हैं। ऐसे में मध्य प्रदेश पुलिस का बर्बर चेहरा देखा जा सकता है। मास्क न पहनने पुलिस लोगों की पिटाई कर रही है। ऐसा की वाक्या इंदौर में देखने को मिला जब दो पुलिसकर्मियों ने एक व्यक्ति को बीच बजार में लात घूसों से बुरी तरह पीटा। शख्स को इस हद तक पिटा गया कि उसके कपडे फट गए। पिटाई के दौरान शख्स का बेटा चिल्लाता रहा कि अंकल मेरे पापा को प्लीज छोड़ दो और इस दौरान भीड़ तमाशा देखती रही।  

    कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता नरेंद्र सालूजा (Narendra Saluja) ने वीडियो को ट्वीट किया है। उन्होंने कैप्शन में लिखा है कि ”ये बर्बरता है? ये पुलिस के जवान इंदौर के थाना परदेशीपुरा के बताये जा रहे हैं. इस व्यक्ति का दोष यह बताया जा रहा है कि इसने मास्क नहीं पहना था. मास्क नहीं पहनने पर चालान का नियम है , पिटाई का हक़ किसने दिया? इन दोषी जवानों पर कार्यवाही हो।  ”

    महिलाओं ने पुलिसकर्मियों से लगाई गुहार 

    दरअसल मामला इंदौर के परदेसीपूरा थाने के मालवा मिल मुक्ति धाम का है। सिपाही धर्मेंद्र जाट और कमल प्रजापत ने कृष्णा नाम के ऑटो चालक को मास्क न पहनने के जुर्म में जमकर पीटा। ऑटोचालक की सड़क के बीचो-बीच पिटाई होती रही, उसका छोटा बेटा खड़ा रोता रहा और लोग अपनी गाड़ी रोक कर तमाशबीन बने रहे। वो तो गनीमत रही कि कुछ महिलाओं ने पुलिसवालों से गुहार लगाई कि वह ऑटोचालक को छोड़ दें। इसबीच पुलिसवालों ने महिलाओं को भी धक्का दिया।

    वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी आशुतोष बागरी ने गोपाल जाट और महेश प्रजापति को सस्पेंड करते हुए लाइन हाजिर कर दिया है।