File Photo
File Photo

    मध्य प्रदेश: कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के उद्देश्य से मध्य प्रदेश के बैतूल में लगाये गये लॉकडाउन के दौरान अकारण घूमने वाले लोगों को जागरूक करने के लिये पुलिस ने थाने में बिठाया और उन्हें कोरोना जागरूकता के लिए बनी एनिमेशन फिल्म दिखायी । एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र की सीमा से लगे बैतूल जिले में दो अप्रैल से लॉकडाउन लागू किया गया थाा जो सोमवार सुबह छह बजे तक जारी रहा।

    शहर के गंज थाने के प्रभारी निरीक्षक प्रवीण कुमार कुमरे ने सोमवार को बताया कि पुलिस ने बेवजह घूम रहे लोगों को रोककर थाना परिसर में रखी कुर्सियों पर बैठाया और यहां पर लगे प्रोजेक्टर पर उन्हें कोरोना जागरूकता पर बनी एनिमेशन फिल्म दिखाई । उन्होंने बताया कि कुछ घंटे के लिए दी गई इस सजा में लोगों को कोरोना से बचने के उपाय बताए गए तथा यह भी बताया गया कि कोरोना कितना खतरनाक है।

    कुमरे ने बताया कि इसका असर यह हुआ कि लोग एक सबक ले कर यहां से गए हैं और यहां लाये गये लोगों ने लॉकडाउन के दौरान बेवजह घर से नहीं निकलने का प्रण लिया। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि दरअसल बैतूल महाराष्ट्र की सीमा से लगा हुआ है यही कारण है कि यहां कोरोना के मरीजों की संख्या प्रतिदिन बढ़ती जा रही है ।

    पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 63 मामले सामने आये हैं और जिले में संक्रमितों की संख्या 4,965 पर पहुंच गई है । कोरोना से अभी तक बैतूल जिले में 83 मरीजों की मौत हो चुकी है । कोरोना के मामले में मध्य प्रदेश के कुल 52 जिलों में से बैतूल 9 वें स्थान पर है ।