मध्य प्रदेश में होगा सत्ता परिवर्तन, क्या कहा ज्योतिरादित्य सिंधिया ने?

    ग्वालियर: राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में सत्तारूढ़ भाजपा (BJP) में नेतृत्व परिवर्तन की बात को खारिज करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) कोरोना वायरस महामारी (Corona Virus Pandemic) से निपटने के लिए पिछले 16 महीने से अच्छा काम कर रहे हैं।

    ग्वालियर और चंबल क्षेत्र के अपने तीन दिवसीय दौरे की शुरुआत में भाजपा नेता सिंधिया ने बृहस्पतिवार को यहां पत्रकारों से कहा कि वह बुधवार को भोपाल गए थे और कोविड-19 प्रबंधन को लेकर मुख्यमंत्री चौहान, पार्टी पदाधिकारियों और अन्य नेताओं से मिले।

    उन्होंने कहा, ‘‘मुझे पता नहीं कि मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन की बातें कहां से आ गई। मध्यप्रदेश सरकार के मुखिया शिवराज सिंह चौहान हैं और पिछले 16 महीनों में उन्होंने कोविड-19 जैसी महामारी के बीच बहुत अच्छा काम किया है। मैं भोपाल में पार्टी नेताओं से भेंट करने गया था और इसमें मुख्यमंत्री एवं पार्टी नेताओं के साथ संगठन एवं कोविड-19 प्रबंधन पर चर्चा हुई।”

    उन्होंने कहा, ‘‘चाहे मुख्यमंत्री हों या केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर या फिर मैं स्वयं, सभी लोग मिलकर काम कर रहे हैं। भाजपा हो या कांग्रेस, कामकाज में राजनीति नहीं होनी चाहिए, केवल जनता के विकास की बात होनी चाहिए।”

    चंबल नदी में रेत के अवैध खनन पर सिंधिया ने कहा, ‘‘मैं शुरू से अवैध खनन के खिलाफ रहा हूं। मैं सरकार से कहूंगा कि इस पर सख्त कार्रवाई हो, लेकिन जो लोग खनन का शुल्क सरकार को दे रहे हैं, उनका संरक्षण सरकार करेगी। यदि शुल्क देने वाले भी अवैध खनन करेंगे तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए।”

    सिंधिया ने कोविड-19 की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर मध्यप्रदेश की तैयारी के बारे में कहा, ‘‘दूसरी लहर में प्रदेश सरकार ने बढ़िया काम किया और अब तीसरी लहर से निपटने की तैयारी भी हो रही है। इसके साथ टीकाकरण भी होना चाहिए, क्योंकि कोरोना वायरस से लड़ने का एक हथियार, टीका है और इसके लिए प्रदेश की जनता को प्रोत्साहित करके काम करना होगा।”