28 साल पहले त्यागा अन्न, अब संकल्प होगा पूरा

जबलपुर: मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम का भव्य मंदिर का शिलान्यास पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हांथो होने वाला है . जिसके लिए सभी तैयारियाँ पूरी कर ली गई है. मंदिर निर्माण का भूमिपूजन होते ही देश और दुनिया में मौजूद कई लोगों का संकल्प पूरा हो जाएगा. इन्ही में से एक है उर्मिला देवी(81). जो पिछले 28 साल से अन्न त्याग कर सिर्फ राम नाम का जप कर रही हैं. 

मध्यप्रदेश के जबलपुर जिले के विजय नगर में रहने वाली इस बुजुर्ग महिला ने अपनी आयु के 53 वर्ष में मंदिर निर्माण के लिए उपवास शुरू करने वाली इस राम भक्त ने मंदिर निर्माण की ख़बर इ बेहद खुश हुई है. उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों को पत्र लिख कर उनका धन्यवाद और बधाई दी थी. 

रामलला के दर्शन के बाद ही अन्न का ग्रहण
उर्मिला देवी का कहना है कि जब तक अयोध्या में जाकर राम के दर्शन नहीं कर लेंगी, तब तक वह अन्न का एक दान भी नहीं ग्रहण करेंगी। जैसे ही मर्यादा पुरुषोत्तम के दर्शन होंगे तभी वह भोजन करेंगी. उनके परिवार वाले उन्हें समझा रहे है कि कोरोना महामारी के कारण वह जाना संभव नहीं है, लेकिन वह मनाने को तैयार नहीं हैं.

भूमि पूजन के समय राम नाम का जप
उर्मिला का कहना है कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे उस समय वह राम नाम का जप करेंगी. इस पावन घड़ी में अयोध्या में मौजूद नहीं रहने को लेकर उन्हें काफी दुःख है, लेकिन राम का नाम लेकर संतोष कर रही हूँ. 

बाकी जीवन अयोध्या में 
राम का नाम जपते हुए उर्मिला ने कहा, ‘ भगवान राम का मंदिर बनाना मेरे पुनर्जन्म जैसा है. मेरा संकल्प पूरा होगया है अब बाकी बचा जीवन प्रभु श्री राम के सानिध्य में बिताना है.’