शिवराज ने कमलनाथ पर फिर साधा निशाना कहा- कौन लायक, कौन नालायक जनता तय करती है

भोपाल: मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में जैसे-जैसे उपचुनाव की तारिक नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Shivraj singh Chauhan) और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ (Kamla Nath)के बीच बयान बाजी तल्ख़ होते जा रहे है. शनिवार को कमलनाथ द्वारा नालायक कहे जाने पर शिवराज ने पलटवार किया. उन्होंने कहा, “कौन लायक है, कौन नालायक है ये तो जनता तय करती है. कमलनाथ खुद सोचें की लायक कौन है, जो गरीबों का सम्मान करे, किसान कल्याण की योजना बनाए, प्रदेश का विकास करे. उन्हें जवाब देना चाहिए उनकी सरकार ने क्या किया, ये बड़ी लायकी का काम था कि वल्लभ भवन को दलालों का अड्डा बना दिया.”

ज्ञात हो कि राज्य की 28 सीटों पर उप चुनाव होने वाला है. जिसके लिए कमल नाथ दो दिन के दौरे पर ग्वालियर पहुंचे थे. वहां पत्रकारों से बात करते हुए कमलनाथ कहा, ” मैंने अपने कार्यकाल में 26 लाख किसानों के कर्ज माफ किए. अब शिवराज इतने नालायक तो हैं नहीं कि वह समझ न सकें कि ये कैसे किया गया है. हमने दो लाख तक के सभी किसानों के कर्ज माफ करके मदद की. जबकि, शिवराज के 15 साल के कार्यकाल में किसानों को आत्महत्या तक पर मजबूर होना पड़ा.”

किसानों और गरीबों को धोका देने वाले अपनी लायकी बताएं 
शिवराज ने आगे कहा, “कमलनाथ जी, आप ने चंबल से पानी लाने की योजना ठंडे बस्ते में क्यों डाली, 10 दिन में 2 लाख तक का कर्जा माफ क्यों नहीं किया, किसान सम्मान निधि का पैसा आपने क्यों अटकाया, बाढ़ के हालातों में किसानों के बीच क्यों नहीं पहुंचे, संबल योजना क्यों बंद की.”

उन्होंने आगे कहा, “गरीबों की सहायता की योजनाएं बंद करके आपने गरीबों के साथ धोखा नहीं किया. आपकी लायकी की कितनी बातें हैं, जवाब के रूप में कहूं तो मुझे नालायक कहने वाले पहले इन प्रश्नों का उत्तर दें.”