Four children died due to lightning in Chhattisgarh

    भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के विभिन्न भागों में आकाशीय बिजली (Lightning) गिरने की अलग-अलग घटनाओं में दो नाबालिग सहित छह लोगों की मौत हो गई जबकि 11 अन्य घायल हो गये। बिजौली थाना प्रभारी केपीएस यादव ने बताया कि रविवार शाम को ग्वालियर जिले के बिजौली क्षेत्र के सुनारपुरा गांव में मवेशी चरा रहे हाकिम आदिवासी (24) एवं रवि (10) की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई। उन्होंने कहा कि इस हादसे में दो अन्य व्यक्ति शोभाराम और दुर्गाराम झुलस गए, जिन्हें तुरंत ग्वालियर लाकर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

    सेसईपुरा थाना प्रभारी रीना शाक्य ने बताया कि श्योपुर जिले के सेसईपुरा थाना इलाके के टपरियान गांव में पेड़ के नीचे बैठे पिता-पुत्र सहित तीन लोगों पर रविवार शाम को आकाशीय बिजली गिरी, जिससे वे गंभीर रूप से झुलस गये। उन्होंने कहा कि इन तीनों को गंभीर हालत में कराहल स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया, जहां हरिओम यादव (65) एवं उनके बेटे कुबेर यादव (30) की उपचार के दौरान मौत हो गई, जबकि रामखिलौना यादव (50) का इलाज चल रहा है।

    अमोला थाना प्रभारी राघवेंद्र सिंह यादव ने बताया कि रविवार शाम को शिवपुरी जिले के ग्राम बरोदी में बकरी चराने गए शिवम राजा (17) की आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मौके पर ही मौत हो गई। उन्होंने कहा कि शिवपुरी जिले के बरोदी, सलैया एवं नारही गांवों में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से सात लोग घायल भी हुए हैं, जिन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

    उन्होंने कहा कि आकाशीय बिजली गिरने से पांच बकरियां भी मारी गईं। इनके अलावा, शहडोल जिले में केशवाही पुलिस चौकी के बलबहरा गांव में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से खेत में काम कर रहे अमृतलाल चौधरी (35) की मौत हुई है, जबकि एक अन्य व्यक्ति को अनूपपुर में भर्ती किया गया है। (एजेंसी)