अन्ना हजारे भूख हड़ताल: “दिल्ली में शुरू किसान आंदोलन देश भर फैलना चाहिए”, देखें वीडियो

पुणे. सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे (Social worker Anna Hazare) मंगलवार को आंदोलनरत किसानों को समर्थन देने के लिए एक दिवसीय भूख हड़ताल (Hunger Strike) पर बैठे। अन्ना हजारे ने कहा, “दिल्ली में चल रहा किसान आंदोलन पूरे देश में फैल जाना चाहिए, ताकि सरकार पर किसानों के हितों के लिए काम करने का दबाव बने।” 

साथ ही अन्ना हजारे ने दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन की सराहना भी है। उन्होंने कहा, दिल्ली की सीमाओं पर पिछले दस दिनों से किसान आंदोलन कर रहे है, लेकिन इस दौरान कोई हिंसा नहीं हुई है।

पूरे देश में किसानों के आंदोलन (Delhi Farmer Protest) का मुद्दा उठाया जा रहा है। इस आंदोलन की पृष्ठभूमि के खिलाफ विभिन्न किसान संगठनों (Farmers Organisation) ने 8 दिसंबर को भारत बंद (Bharat Band) का ऐलान किया था। साथ ही, राज्य के विभिन्न वर्गों ने किसान आंदोलन का समर्थन किया है। इसी बीच, अब वरिष्ठ गांधीवादी सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे (Social Worker Anna Hajare) भी मैदान में उतर गए हैं। कल भारत बंद की पृष्ठभूमि पर हजारे ने एक दिन का अनशन (One Day Fast) किया। (Anna Hazare will fast for a day in support of the farmers’ movement)

अन्ना हजारे ने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि, “वे भीड़ किए बिना अपनी जगह पर अहिंसक तरीके से एक दिन का आंदोलन कर किसानों का समर्थन करें।” अन्ना ने किसान आंदोलन को समर्थन देने का ऐलान  करने वाला एक विडिओ यूट्यूब चैनल पर जारी किया था।

राज्य में भी होगा यलगार

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानून का पूरे देश में विरोध किया जा रहा है। देश भर के किसानों ने इसके खिलाफ आंदोलन शुरू कर दिया है। इसी बीच, इस बंद में राज्य के सभी एपीएमसी बाजारों (APMC) ने भाग लिया है। इसलिए, 8 दिसंबर को सभी बाजारों को बंद रखने का निर्णय लिया गया है।

मथाड़ी श्रमिक नेता और विधायक शशिकांत शिंदे (MLA Shashikant Shinde) ने घोषणा की है कि, वह देश में किसानों का समर्थन (Farmers Support) करने के लिए बंद में शामिल होंगे। नवी मुंबई एपीएमसी (Mumbai APMC) में सभी पांच बाजारों को बंद करते हुए, राज्य के नासिक (Nashik), पुणे (Pune), नगर (Nagar) और कोल्हापुर (Kolhapur) में बाजार समितियां भी कल बंद में भाग लेंगी।