सचिन वाझे को लेकर महाविकास अघाड़ी में रार, CM उद्धव ठाकरे से शरद पवार ने की मुलाकात

    मुंबई: उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटकों से भरी स्कॉर्पियो मिलने के मामले में गिरफ्तार सचिन वाझे को लेकर महाराष्ट्र की राजनीति गरमाई हुई है। एक ओर विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी लगातार सरकार और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर हमलावर हैं। वहीं अब इसी को लेकर महाविकास अघाड़ी में दरार पड़ती दिख रही है। सोमवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस सुप्रीमों शरद पवार ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से उनके सरकार निवास वर्षा में जाकर मुलाकात की है। 

    मिली जानकारी के अनुसार दोनों नेताओं के बीच करीब 45 मिनट तक बातचीत चली है। सूत्रों के अनुसार पवार, सचिन वाझे और अंबानी के घर बाहर विस्फोटकों से भरी गाडी मिलने के मामले को सरकार ने जिस तरह से हैंडल किया  है जिससे विपक्षी दल को सरकार पर हमला करने का मौका मिला है उसको लेकर बेहद नाराज हैं। 

    एनसीपी और शिवसेना में बढ़ी दरार 

    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सचिन वांझे को लेकर शिवसेना और एनसीपी के बीच दरार बढ़ गई है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी महाविकास अघाड़ी सरकार की साख को लगे धक्के के पीछे मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह द्वारा उठाए कदम को बता रहीहैं। इसी के साथ कमिश्नर को इस मामले की जवाबदेही स्वीकार करने के साथ उन्हें तत्काल प्रभाव से पद से हटाने की मांग की है। वहीं शिवसेना की तरफ से कहा गया है कि अगर परमबीर सिंह को हटाया जाता है तो गृहमंत्री अनिल देशमुख को भी पद से हटाया जाए, क्योंकि उनके ऊपर भी वाझे को बचाने का आरोप लगाया जा रहा है। 

    आमिर खान से मिलने का समय पर पवार से नहीं 

    विधायक और भाजपाप्रदेश सचिव नितेश राणे ने मुलाकात को लेकर ठाकरे पर हमला बोला है। उन्होंने कहा, “हमें जानकारी है कि एनसीपी चीफ शरद पवार बुधवार से मुख्यमंत्री से मिलने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन सीएम ने आज उनसे मुलाकात की। सीएम के पास पहले पवार साहब से मिलने का समय नहीं था, लेकिन उनके पास अभिनेता आमिर खान के साथ शुक्रवार रात को खाना खाने का समय था।”

    पवार ने एनसीपी मंत्रियों की बैठक बुलाई

    सरकार में चल रहे मनमुटाव की खबरों के बीच शरद पवार ने महाविकास अघाड़ी सरकार में एनसीपी कोटे से मंत्रियों की बैठक बुलाई है। बैठक के लिए सभी मंत्री मुंबई के वायबी चौहान सेंटर पर पहुंच गए हैं।

    वहीं अनिल देशमुख के इस्तीफे को लेकर सरकार में मंत्री और महाराष्ट्र एनसीपी प्रमुख  जयंत पाटिल ने कहा, “गृह मंत्री का इस्तीफा लेने का कोई सवाल ही नहीं है। वह अपना काम बहुत अच्छे से कर रहें हैं।”