Movement for milk grant, many parties including BJP demonstrated
File Photo

मुंबई. महाराष्ट्र में मुख्य विपक्षी भाजपा ने दूध खरीद मूल्य में वृद्धि की मांग को लेकर राज्य के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन किया। कई स्थानों पर किसानों ने विरोध स्वरूप सड़क पर दूध गिराया और नारेबाजी करते हुए कुछ समय के लिए सड़कों को जाम कर दिया। उनकी मूख्य मांग दूध पर सब्सिडी प्रति लीटर दस रुपये बढ़ाने और डेयरी द्वारा मौजूदा 30 रुपये प्रति लीटर की दर से हो रही दूध खरीद को संशोधित करने की है। उन्होंने प्रति किलो दूध पाउडर के निर्यात पर सब्सिडी बढ़ाने की भी मांग की। उल्लेखनीय है कि बेहतर दूध खरीद मूल्य की मांग को लेकर हाल में स्वाभिमानी शेतकारी संगठन (एसएसएस), रैयत शेतकारी संगठन और अखिल भारतीय किसान सभा ने हाल में प्रदर्शन किया था। 

इस बीच, महाराष्ट्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने डेयरी किसानों के मुद्दे पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘‘ मैं जानना चाहता हूं कि मुख्यमंत्री ठाकरे दूध उत्पादकों का मुद्दा उठाने कितनी बार दिल्ली गए। अगर वह डेयरी उद्योग के मुद्दे को नहीं जानते तो उन्हें राकांपा नेता अजित पवार और कांग्रेस नेता बालासाहेब थोराट जैसे नेताओं को दिल्ली भेजना चाहिए जिन्हें इस क्षेत्र की गहरी जानकारी है।” अन्य भाजपा नेता एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष हरीभाउ बागडे ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस पर दूध पाउडर आयात पर लोगों को भ्रमित करने का आरोप लगाया। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस और राकांपा ने आरोप लगाया है कि केंद्र की दूध पाउडर आयात की नीति से घरेलू डेयरी उद्योग प्रभावित हो रहा है। (एजेंसी)