देवेंद्र फडणवीस के 23 साल के भतीजे को मिली कोरोना वैक्सीन, कांग्रेस ने माँगा जवाब

    मुंबई. एक तरफ महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना (Corona) की वर्तमान स्थिति को लेकर BJP और महा अघाड़ी में तकरार अब आम बात हो गयी है। लेकिन वहीं अब महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra-Fadanvis) एक नए ही विवाद में फंसते नजर आ रहे हैं। 

    दरअसल कांग्रेस की राज्य ईकाई ने अब ट्वीट करके दावा किया है कि देवेंद्र फडणवीस के भतीजे ने भी अब कोरोना वैक्सीन लगवाई है, लेकिन ख़ास बात यह है कि  उनकी उम्र 45 साल से काफी कम है। इतना ही नहीं कांग्रेस ने ट्विटर पर फडणवीस के भतीजे की वैक्सीन लेते हुए तस्वीर भी आज पोस्ट की है। इस मुद्दे पर अब कांग्रेस का प्रश्न है कि जब फडणवीस की भतीजे की उम्र 45 साल नहीं है तो उन्हें यह कोरोना वैक्सीन मिली तो कैसे मिली?

    क्या है कांग्रेस का ट्वीट ?

    दरअसल कांग्रेस ने ट्वीट कर पूछा है कि, ” जब देश की मोदी सरकार ने 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को ही टीका लगाने की फिलहाल शर्त रखी है। फिर ऐसी विषम स्थिति में 45 साल से कम उम्र के देवेंद्र फड़नवीस के भतीजे का टीकाकरण कैसे हो सकता है? क्या हम यह मान लें कि BJP नेताओं के परिवारों का ही जीवन महत्वपूर्ण है। क्या आम जनता के जीवन की कीमत अब कुछ भी नहीं है?”

    पहली डोज मुंबई में तो दूसरी मिली नागपुर में – कांग्रेस

    इतना ही नहीं इस वैक्सीन कांड पर कांग्रेस नेताओं का कहना है कि उक्त तस्वीर देवेंद्र फडणवीस के भतीजे तन्मय की ही है। तन्मय ने ही ये तस्वीर नागपुर के नेशनल कैंसर इंस्टिट्यूट (NCI)में कोरोना वैक्सीन लेने के बाद खुद सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी। इधर कांग्रेस ने यह भी दावा किया है कि तन्मय ने टीके की पहली डोज मुंबई में और दूसरी डोज नागपुर में ली है।

    इस प्रकार से अपने भतीजे तन्मय के चलते देवेंद्र फडणवीस एक बार फिर कांग्रेस की टेढ़ी नजरों में आ गयी है, जो कि पूर्ण  तन्मयता से फडणवीस का इस मुद्दे पर जवाब का इन्तेजार कर रही है।