Lockdown in Nagpur

    मुंबई: कोरोना वायरस (Corona Virus) की दूसरी लहर से महाराष्ट्र (Maharashtra) में हालात बेहद चिंताजनक हो गए है। राज्य की उपराजधानी नागपुर (Nagpur) में हालात बिगड़ते जारहे हैं। पिछले 24 घंटे में जिले में 3,679 नए मामले आए। जिसको देखते हुए राज्य सरकार ने लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) को 31 मार्च तक बढ़ा दिया है। शनिवार को कोरोना को लेकर हुई बैठक में जिले के पालकमंत्री नितिन राऊत (Nitin Raut) ने इस बात की घोषणा की। 

    ज्ञात हो कि, इसके पहले जिले में एक हफ्ते का लॉकडाउन लगाया हुआ है, जो रविवार 21 मार्च को समाप्त होने वाला है। लेकिन उसके बाद भी जिले में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इस दैरान स्कूल और कॉलेज पर लगी रोक जारी रहेगी। 

    24 घंटे में आए 3679 नए मामले 

    संतरानगरी में कोरोना के मामले रिकॉर्ड बना रहे हैं। पिछले 24 घंटे में जिले के अंदर  3679 नए मामले सामने आएं हैं, इसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,89,466 हो गई। अभी तक जिले में कोरोना से 4592 लोगों की मौत हुई है, वहीं 24 लोगों की मौत पिछले 24 घंटे में हुई है। इसी के साथ  1,57,249 लोग ठीक हो कर घर वापस जाचुके हैं। 27,625 एक्टिव मामले हैं। 

    कोरोना के मामलों ने तोडा रिकॉर्ड 

    लॉक डाउन लगने के बाद जिले में कोरोना के मामले कम होने के बजाय लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पिछले चार दिनों से संतरानगरी में रोजाना तीन हजार से ज्यादा मामले सामने आरहे हैं। जिसको देखते हुए पिछले दिनों जिला प्रशासन ने एसेंशियल सर्विसेस का समय भी कम कर दोपहर एक बजे तक कर दिया है। 

    लॉक डाउन कोई उपाय नहीं 

    राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने लॉकडाउन को समस्या है हल नहीं बताया है। उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि कोविड संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन अंतिम समाधान नहीं है। लॉकडाउन के माध्यम से हम अपनी तैयारियां कर सकते हैं। फिर भी प्रशासन को लगता है कि लॉकडाउन की ज़रूरत है, तो हम प्रशासन के साथ चर्चा करके उस पर काम करेंगे।”