सरकारी कर्मचारियों को ड्रेस कोड लागू, सरकार ने जारी किए ‘नियम’

मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में ठाकरे सरकार (Uddhav Thackeray Government) ने सरकारी कर्मचारियों (Government) के लिए ड्रेस कोड (Dress Code) लागू कर दिया है। इसके लिए, सरकारी कार्यालयों में क्या और कैसे कपड़े पहनने हैं, इस पर सरकार ने निर्देश भी जारी किए हैं। मंत्रालय (Ministry) द्वारा जारी निर्देश के अनुसार, सरकारी कर्मचारियों को अब जींस और टी-शर्ट (Jeans and t-shirt) पहनने की अनुमति नहीं होगी। साथ ही स्लीपर्स का उपयोग न करने की भी सलाह दी है। (Dress code applied to government employees in Maharashtra, government issued ‘rules’)

महिलाओं का भी होगा ड्रेस कोड 

वहीं महिला कर्मचारियों (Female employees) के लिए भी नया ड्रेस कोड निर्धारित किया गया है। महिलाओं को कार्यालय में साड़ी (Saree), कुर्ता (Kurta), सलवार (Salvar), चूड़ीदार (Chudidar), दुपट्टा और पतलून पहनना आवश्यक होगा।

सप्ताह में एक दिन खादी के कपडे 

इसके साथ ही, नए नियमों के अनुसार सभी कर्मचारियों को सप्ताह में एक बार यानि शुक्रवार को खादी के कपड़े (Khadi Cloth) पहनना आवश्यक होगा। 

ड्रेस कोड से होगा काम पर प्रभाव 

आम जनता को सरकारी कर्मचारियों से अच्छे व्यवहार और व्यक्तित्व की उम्मीद होती है। इस स्थिति में यदि अधिकारियों और कर्मचारियों का ड्रेस अशोभनीय और अस्वच्छ है, तो इसका अप्रत्यक्ष प्रभाव काम पर भी पड़ता है। इन सभी को ध्यान में रखते हुए, मंत्रालय के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ-साथ सभी राज्य सरकार के कार्यालयों को दिशा निर्देश दिए गए हैं। 

क्या है ड्रेस कोड के नए नियम?

– पहने हुए कपड़े साफ और सुव्यवस्थित हों।

– पुरुष कर्मचारियों को शर्ट और पैंट पहनना चाहिए, जींस और टी-शर्ट न पहनें . 

– महिला कर्मचारियों को साड़ी, कुर्ता, सलवार, चूड़ीदार, दुपट्टा, पतलून पहनें। 

– कर्मचारी कार्यालय में चप्पल, सैंडल और जूते पहने हुए हों। 

– पुरुष कर्मचारी जूते और सैंडल पहनें। 

– अजीब चित्रों के साथ गहरे रंग के कपड़े न पहनें।

– खादी को बढ़ावा देने के लिए सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को सप्ताह में एक बार (शुक्रवार) खादी पहननी होगी। 

– कार्यालय में चप्पल का उपयोग न करें।