maharashtra

    मुंबई. जहाँ देश (India) में कोरोना (Corona) की दूसरी लहर फीकी पड़ती दिख रही है। वहीं फिलहाल देश की आर्थिक राजधानी मुंबई (Mumbai) में भी कोरोना के मामले थोड़े थमते से नज़र आ रहे हैं। लेकिन इसके उलट राज्य के कई शहरों में इस भयंकर संक्रमण के मामले एक बार फिर बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना के इन बढ़ते मामलों के अलावा महाराष्ट्र में भी अब बढ़ते ब्लैक फंगस के मामले से उद्धव सरकार (Uddhav Thackeray) की चिंता बढ़ रही है। (Maharashtra: Uddhav government in a state of panic due to rising ‘black fungus’ cases, corona cases increased in many cities)

    इस मुद्दे पर महाराष्ट्र सरकार के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, फिलहाल राज्य में ब्लैक फंगस (Black Fungus) के अब तक कुल 9,268 मामले सामने आ चुके हैं और ब्लैक फंगस की वजह से ही 112 लोगो की मौत भी हुई है। इस घातक ब्लैक फंगस से अब तक 5091 लोग ठीक होकर वापस अपने घर लौट गए हैं और अभी 2900 लोगों का इलाज फिलहाल जारी है। फिलहाल ब्लैक फंगस के सबसे ज्यादा मामले नागपुर, पुणे, औरंगाबाद, नाशिक, सोलापुर और मुंबई से ही आ रहे हैं। अभी ब्लैक फंगस के मामलों में मृत्यु दर करीब 12% ही देखी गयी है। 

    इसके साथ ही आंकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी दी कि महाराष्ट्र में ब्लैक फंगस से सबसे ज्यादा प्रभावित मामलों में नागपुर पहले और पुणे फिलहाल दूसरे स्थान पर है। इसके साथ ही ब्लैक फंगस के नागपुर में 5121 मामले सामने आए हैं जिसमे 152 लोगों की मौत भी हुई हैं। वहीं पुणे में 1241 केस में से 163 लोगों की मौत, औरंगाबाद में 1043 केस में से 99 लोगों की मौत, नाशिक में 659 केस में से 72 लोगों की मौत, मुंबई में 620 केस में से 104 लोगों की मौत, सोलापुर में 589 केस में से 81 लोगों की मौत हो चुकी है। 

    इसके साथ ही महाराष्ट्र के कोल्हापुर, पुणे, सांगली जिले में फिलहाल कोरोना थमने का नाम नही ले रहा है। लेकिन इन जिलो में कोरोना के एक्टिव केसेस भी फिलहाल बढ़ रहे हैं। गौरतलब है कि मुंबई में कोरोना के कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 11,088 है। महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे के भीतर कोरोना की चपेट में आने से 170 लोगों की जान चली गई है। इसके साथ ही 8 हजार 602 नए मामले फिलहाल दर्ज हुए हैं।