khadse-patil

मुंबई. बीजेपी (BJP) के कद्दावर नेता एकनाथ खडसे (Eknath Khadse) शुक्रवार यानी  23 अक्टूबर को अपनी पार्टी छोड़ कर एनसीपी (NCP) में  शामिल होंगे। प्रदेश एनसीपी अध्यक्ष जयंत पाटिल(जयंत पाटिल) ने खडसे की  पार्टी में  एंट्री पर मुहर लगा दी है। उन्होंने कहा कि खडसे ने  पार्टी अध्यक्ष शरद पवार के नेतृत्व में काम करने का फैसला किया है, जिसका हम स्वागत करते हैं।

हालांकि पाटील ने इस बात का खुलासा नहीं किया कि खडसे किन शर्तों के साथ एनसीपी में शामिल होंगे। ऐसा कहा जा रहा है कि खडसे को विधान परिषद का सदस्य बनाए जाने के बाद उन्हें कृषि मंत्री बनाया जा सकता है।  हालांकि पाटिल ने कहा कि खडसे बिना किसी शर्त के पार्टी में शामिल होने का फैसला किया  है।   

पिछले कुछ दिनों से खडसे के एनसीपी में शामिल होने को अटकलें काफी तेज थी। जिसकी अब आधिकारिक पुष्टि हो गई है। बीजेपी में खडसे पिछले कुछ वर्षों से हाशिए पर चल रहे थे।  पार्टी के अंदर भाव नहीं मिलने से खडसे काफी नाराज थे। हालांकि प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष चंदकान्त पाटिल ने दावा किया था कि खडसे पार्टी में बने रहेंगे, लेकिन अब एनसीपी प्रदेश अध्यक्ष पाटिल के बयान से इन दावों की हवा निकल गई है।  पाटिल ने कहा कि खडसे का जलगांव के अलावा आस -पास के इलाकों में काफी वर्चस्व है, जिसका फायदा पार्टी को मिलेगा। 

लतिकेश शर्मा