Maharashtra Floods : Flood and landslide worsened the situation in Maharashtra, CM Uddhav Thackeray could not reach Satara, helicopter was diverted to Pune
File

    मुंबई: महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने शुक्रवार को महाराष्ट्र के तटीय कोंकण क्षेत्र (Konkan Region) में प्राकृतिक आपदाओं (Natural Calamities) से निपटने के लिए 3,635 करोड़ रुपये के कोष को मंजूरी दी। अधिकारियों ने कहा कि, यह राशि क्षेत्र में बहु-आपदा प्रबंधन परियोजनाओं पर खर्च की जाएगी। शुक्रवार को वीडियो कॉन्फरेंसिंग के ज़रिए हुई बैठक में सीएम उद्धव ठाकरे सहित महाराष्ट्र सरकार के आला अधिकारी मौजूद रहे। 

    एक रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की एक बैठक में, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, बदलती जलवायु परिस्थितियों के मद्देनजर, प्राकृतिक आपदाओं के कारण प्राधिकरण को परियोजनाओं को शुरू करने में अपनी प्राथमिकताएं तय करनी चाहिए। मानव जीवन के नुकसान को कम करने के लिए ध्यान केंद्रित किया जाना चाहिए, प्राकृतिक आपदाओं के प्रभाव को खत्म करने के लिए सभी बुनियादी ढांचे, जो कोंकण के तटीय क्षेत्र में एक आवर्ती घटना है, से निपटा जाना चाहिए ताकि निवासियों को राहत मिल सके। 

    रिपोर्ट में कहा गया है कि, सीएम ने कहा, ऐसे कई जिले हैं जो अभी भी महामारी की चपेट में हैं जो “चिंता का कारण” है। वहीं, कोविड दिशा-निर्देशों में ढील देने की मांग भी की जा रही है। राज्य सरकार उद्योगों और अन्य क्षेत्रों के साथ विचार-विमर्श कर रही है। स्थिति का सावधानीपूर्वक आकलन करने के बाद, हम निर्णय लेंगे।