corona

    नयी दिल्ली. जहाँ एक तरफ  देशभर (India) में कोरोना टीकाकरण (Corona Vaccine) अभियान अपने रफ़्तार पर है, लेकिन वहीं अब मोदी सरकार (Narendra Modi) की चिंता एक बार फिर बढ़ गई है। जिसका कारण हैं मौजूदा वक्त में कोरोना केस (Corona Case) तेजी से बढ़ना, जहां अब रोजाना 50 हजार से ज्यादा मामले सामने आने लगे हैं। इसके अलावा अब कई राज्यों में जैसे की महाराष्ट्र के  अस्पतालों में बेड की कमी फिर से देखी जा रही है। पिछले साल जैसे हालात फिर से ना बनें, इस वजह से राज्यों ने अब पाबंदियां फिर से लागू करनी शुरू कर दी हैं। वहीं दूसरी ओर कई राज्य ऐसे हैं, जहां पर एंट्री के लिए कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी है।

    इन राज्यों में आने वालों के लिए निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य:

    महाराष्ट्र: 

    गुजरात, दिल्ली-एनसीआर, गोवा, राजस्थान और केरल से अब महाराष्ट्र आने वाले लोगों के लिए कोरोना  की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी है। जो लोग फ्लाइट से आ रहे उनको 72 घंटे पहले की निगेटिव रिपोर्ट जरुर दिखानी होगी। वहीं पुणे हवाई अड्डे पर जिसके पास RT-PCR रिपोर्ट नहीं होगी, उसे अपने खर्च से वहां पर एक टेस्ट करवाना होगा। अब मुंबई में भी निगेटिव रिपोर्ट लाना जरूरी है। 

    छत्तीसगढ :

    बघेल सरकार ने महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और दिल्ली से आने वाले लोगों की जरुरी स्क्रीनिंग का आदेश दिया है। खासकर अब रायपुर और जगदलपुर हवाई अड्डे पर विशेष सावधानियां भी बरती जा रही हैं।

    गुजरात: 

    रूपाणि सरकार ने यह आदेश जारी किया है कि अगर कोई व्यक्ति दूसरे राज्य से आता है, तो उसके लिए कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट साथ लाना अत्यंत जरूरी है। ये रिपोर्ट RT-PCR ही होनी चाहिए।

    राजस्थान :

    राजस्थान कि गहलोत सरकार ने पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और गुजरात से आने वाले लोगों के लिए कोविड-19 रिपोर्ट अनिवार्य कर रखी है।

    ओडिशा: 

    ओडिशा सरकार ने बीते शनिवार को कहा कि पांच उच्च जोखिम वाले राज्यों महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ से विमान या ट्रेन द्वारा आने वाले लोगों के लिए अब 7 दिनों का  का क्वारंटीन अनिवार्य रहेगा। इसके अलावा 12 अन्य राज्यों से वाले लोगों के लिए एहतियाती उपाए भी किए जाएंगे। 

    त्रिपुरा :

    कोरोना  के उच्च प्रसार वाले राज्यों से अब त्रिपुरा पहुंचने वाले लोगों को अगरतला हवाई अड्डे पर नियमित कोरोना जांच करवानी होगी।

    कर्नाटक: 

    यहाँ कि राज्य सर्कार ने महाराष्ट्र और केरल से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना कि नेगेटिव  रिपोर्ट को अब अनिवार्य कर दिया है।

    बिहार:

    यहाँ पहुँचने पर जिनके पास कोरोना निगेटिव रिपोर्ट नहीं होगी, उनकी अनिवार्य RT-PCR जांच की जाएगी। 

    पश्चिम बंगाल: 

    ममता सरकार के अनुसार अब जिनके अंदर भी कोरोना के लक्षण होंगे उन्हें निकटतम कोरोना  केयर सेंटर लेकर जाया जाएगा। 

    तमिलनाडु: 

    राज्य सरकार के अनुसार यहाँ कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी नहीं। लेकिन केरल और महाराष्ट्र से आने वालों के लिए 7 दिन का जरुरी क्वारंटीन।