pragya

    बालाघाट/नागपुर. जहाँ कोरोना (Corona) के चलते पूरे देश (India) में फिलहाल हड़कंप मचा हुआ है। वहीं इस भयानक संक्रमण के बीच कुछ ऐसी खबरें भी आती हैं जो तमाम मुश्किलों के बीच हमें हौसला देती हैं और उम्मीद भी जगाती हैं कि फिलहाल इंसानियत जिन्दा है। ऐसा ही कुछ  मध्य प्रदेश (M.P) के बालाघाट (Balaghat) से सामने आया है जहां एक बेटी जो एक डॉक्टर भी है, अपनी तमाम मुश्किलों से पार पाते हुए स्कूटी से अकेले ही 180 किलोमीटर का सफर तय कर महाराष्ट्र के नागपुर पहुंच गई और कोरोना संक्रमितों के इलाज में जुट गई है।

    छुट्टियों में अपने घर आईं थीं डॉ प्रज्ञा:

    बात हो रही है बालाघाट की डॉ प्रज्ञा घरड़े (Dr. Pragya) की, जो छुट्टियों में अपने घर आई थी। इसी बीच फी से कोरोना का संक्रमण तेज हुआ और महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश आने-जाने वाले सभी बसों पर रोक लग गई। जब ट्रेन में भी उन्हें जगह नहीं मिली  तो डॉक्टर प्रज्ञा ने स्कूटी से ही नागपुर जाने का बड़ा फैसला कर लिया। यही नहीं लगातार सात घंटे स्कूटी चला कर वह नागपुर भी सकुशल पहुंच गई।

    डॉक्टर प्रज्ञा ने हमें यह बताया कि नक्सल प्रभावित इलाका होने के चलते फिलहाल परिवार के लोग उन्हें इस सफर से रोकने की कोशिश कर रहे थे। वहीं लॉकडाउन के चलते उन्हें रास्ते में भी खाने-पीने को कुछ नहीं मिला। हालाँकि, तेज धूप और गर्मी होने से मुश्किलें भी आईं, लेकिन अपने कर्तव्य के रास्ते में उन्होंने इन समस्याओं को बिल्कुल भी हावी नहीं होने दिया है।

    नागपुर में RMO हैं डॉक्टर प्रज्ञा:

    डॉक्टर प्रज्ञा ने यह भी बताया कि वह नागपुर के एक कोविड सेंटर में RMO के पद पर आसीन हैं। इसके साथ ही वे शाम को एक अन्य अस्पताल में भी मरीजों का इलाज करती हैं। इसके चलते  उन्हें रोजाना 12 घंटे से अधिक समय तक PPE किट पहनकर काम करना पड़ता है। जब नागपुर में उन्हें कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने का पता चला तो उन्होंने स्कूटी से ही वहां पहुंचने और सेवा करने का फैसला कर लिया। डॉक्टर प्रज्ञा के काम करने के जज्बे को और उनके हौंसले को हमारा सलाम।

    गौरतलब है कि राजधानी मुंबई (Mumbai) और उपराजधानी नागपुर (Nagpur) में कोरोना विस्फोट हुआ है। पिछले 24 घंटे में मुंबई में इन दो शहरों में 185 लोगों की मौत हुई है। जबकि 14,754 नए मामले सामने आए है। यह जानकारी गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग ने दी है।वहीं नागपुर में भी कोरोना के मामलों में तेज उछाल आया है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार गुरुवार को नागपुर में 7,334 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 3,50,933 हो गई। वहीं 110 लोगों की मौत होने से मृतकों की कुल संख्या बढ़कर 6,685 हो गई।