Shiv Sena praised CM's efforts in battle of Corona in Maharashtra, said - Uddhav Thackeray has become family doctor for the state

    मुंबई: कोरोना संकट (Corona Updates) के बीच इलाज के रेट तय करने के बाद अब महाराष्ट्र की उद्धव सरकार (Uddhav Govt) ने ब्लैक फंगस (Black Fungus) को लेकर भी बड़ा फैसला किया है। राज्य सरकार ने ब्लैक फंगस के इलाज के रेट तय कर दिए हैं। इसके बाद अब अस्पताल मनमाना तरीके से पैसे वसूल नहीं सकते हैं। कोविड (COVID-19) की तरफ ब्लैक फंगस के इलाज के लिए भी शहर के हिसाब से कैटेगरी को तय किया गया है। 

    ज्ञात हो कि महाराष्ट्र में सरकार ने ब्लैक फंगस के इलाज के लिए रेट तय किये हैं। जिसके बाद अब मरीजों की जेब पर इलाज के लिए अधिक बोझ नहीं पड़ेगा। जानकारी के अनुसार आइसोलेशन या सामान्य बेड के लिए रोजाना 2400 से 4 हजार रुपये तक मरीजों को देना पड़ेगा। साथ ही वेंटिलेटर और अन्य चीजों के लिए भी रेट तय किया गया है। 

    वहीं उद्धव सरकार ने हर शहर की कैटेगरी के अनुसार ब्लैक फंगस के इलाज का खर्च तय किया है। इसके लिए शहरों को तीन कैटेगरी में विभाजित किया गया है। मुंबई, पुणे, नागपुर और आसपास के इलाके ए कैटेगरी में हैं। जबकि बी कैटेगरी में नासिक, अमरावती, औरंगाबाद, वसई-विरार जैसे इलाके हैं।  अन्य को सी कैटेगरी में रखा गया है। इन खर्चों में PPE किट और महंगी दवाएं शामिल नहीं हैं।  सर्जरी के रेट भी फिक्स हैं।