महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने दी साहसिक पर्यटन नीति को मंजूरी

    मुंबई: महाराष्ट्र मंत्रिमंडल ने राज्य में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए बुधवार को एक नीति को मंजूरी प्रदान कर दी। इस संबंध में एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया कि साहसिक पर्यटन गतिविधियों में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए जमीनी, हवाई और जलीय गतिविधियां शामिल होंगी। 

    विज्ञप्ति में कहा गया कि साहसिक पर्यटन नीति को मंजूरी देने का निर्णय मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में किया गया। इसमें कहा गया कि इस तरह की गतिविधियों के आयोजकों को शुरुआत में अस्थायी पंजीकरण प्रमाणपत्र हासिल करना होगा और अंतिम प्रमाणपत्र सभी सुरक्षा उपाय किए जाने के बाद ही जारी किया जाएगा।

    पर्यटन विभाग की वेबसाइट पर इस बारे में जल्द ही विस्तृत दिशा-निर्देश उपलब्ध होंगे। विज्ञप्ति में कहा गया कि मंत्रिमंडल ने सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में काम करनेवाले कर्मियों के लिए सातवें वेतन आयोग के अनुरूप वेतन श्रेणी संशोधन के लिए नियमों को अंतिम रूप देने के वास्ते भी नीतिगत निर्णय किया। संशोधित वेतन श्रेणी एक जुलाई से प्रभाव में आएगी। (एजेंसी)