Uddhav Thackeray

    मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra Corona Updates) में कोरोना का प्रकोप कम जरूर हुआ है लेकिन कोविड (COVID-19) के मामले कम नहीं हुए हैं। कोविड से मरने वालों की संख्या में कमी न होने से उद्धव सरकार (Uddhav Govt) की टेंशन बढ़ गई है। महाराष्ट्र के 12 जिलों में डेथ रेट हाई (Death Rate High) होने के कारण चिंता बढ़ी हुई है। राज्य में 1 जून तक लॉकडाउन (Lockdown) चल रहा है। खबर है कि इसे सरकार लागू रखेगी लेकिन नियमों में ढील सरकार की तरफ से दी जाएगी। 

    ज्ञात हो कि महाराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान शुरुआत में 60 हजार से अधिक मामले रोजाना सामने आ रहे थे लेकिन अब इन मामलों की संख्या 30 हजार से कम हो गई है। इस हिसाब से स्थिति में सुधार हुआ है। बावजूद इसके 12 जिले ऐसे हैं जहां कोविड ने तांडव मचाया हुआ है। जहां मृत्यु दर अधिक है। इन जिलों में सिंधुदुर्ग (कोंकण क्षेत्र), बीड, परभणी, नांदेड़, चंद्रपुर, वर्धा, वाशिम, गढ़चिरौली (विदर्भ), नंदुरबार, हिंगोली (मराठवाड़ा), अमरावती और यवतमाल का समावेश है। 

    उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र के इन जिलों में फरवरी के मध्य से कोरोना तेजी से फैलना शुरू हुआ है। इन जिलों में डेथ रेट हाई होने के पीछे का कारण पर्याप्त स्वास्थ सुविधाओं का न होना है। नंदुरबार में आदिवासियों की बड़ी संख्या होने और सही से नियमों का पालन नहीं होने के कारण हालात खराब हुए हैं। 

    गौर हो कि महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे के भीतर कोविड के 21 हजार से अधिक नए केस सामने आए हैं। साथ ही 425 लोगों की मौत हुई है। अब तक इस वायरस के शिकंजे में आने से 92 हजार 225 लोग जान गंवा चुके हैं।