Ajit Pawar

    मुंबई. जहाँ एक तरफ महाराष्ट्र(Maharashtra) में कोरोना संक्रमण (Corona Pandemic) के बढ़ते मामलों ने राज्य में हाहाकार मचा रखा है। वहीँ इन सबके बीच अब राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार (Ajit Pawar) ने एक बड़ा बयान दे दिया है। आज पुणे में हुई अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस (Press Conference) में अजित पवार ने कहा कि, “हम राज्य में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के के मामलों को सघनता से मॉनिटर कर रहे हैं, अब आगामी 2 अप्रैल तक नज़र रखी जाएगी। अगर लोग कोरोना गाइडलाइन्स का उल्लंघन यूँ ही करते रहे, तो सरकार के पास लॉकडाउन के अलावा फिर कोई कोई चारा नहीं बचेगा।

    महाराष्ट्र में कड़े होंगे नियम:

    इधर राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच आज अजित पवार ने नई गाइडलाइन्स का भी ऐलान किया है। 

    क्या हैं नई गाइडलाइन्स:

    • आज उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मॉल, मार्केट, सिनेमा हॉल को अभी 50% क्षमता के साथ ही काम करना होगा। 
    • किसी भी शादी में 50 लोगों से अधिक लोग नहीं होंगे। 
    • अब अंतिम संस्कार में 20 लोगों के शामिल होने की ही इजाजत दी जाएगी।
    • अस्पतालों में एक बार फिर कोरोना मरीजों के लिए बेड रिजर्व किए जाएंगे।इसके साथ ही प्राइवेट अस्पतालों से भी 50% बेड रिजर्व रखने का आदेश दिया गया है।
    • मुंबई में अब किसी भी मॉल में एंट्री के लिए एंटीजन टेस्ट कराना जरूरी रहेगा।

    इसके साथ ही महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने आज कहा कि सभी मेडिकल स्टाफ और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की अब यही राय है कि अगर कोरोना के आंकड़े बढ़ते हैं, तो हमें सख्त लॉकडाउन लागू करना ही होगा। इस पर अब अगले शुक्रवार को जरुरी फैसला लिया जाएगा, लेकिन हालात बिगड़े तो इसके पहले भी लॉकडाउन किया जा सकता है। इसके साथ ही आज अजित पवार ने यह भी कहा है कि लोगों को अब होली पर ध्यान रखना होगा, कोई भी यहाँ वहाँ भीड़ ना लगाए। वरना कोरोना संक्रमण का यह भीषण संकट बेकाबू हो सकता है। 

    क्या हैं महाराष्ट्र के हाल :

    गौरतलब है कि महाराष्ट्र में इस वक्त कोरोना के कारण सबसे बुरे हालात चल रहे हैं। राज्य में जहाँ पिछले 3 दिन में ही 1 लाख से अधिक केस सामने आए हैं। वहीं बीते दिन भी राज्य में 35 हजार से अधिक मामले दर्ज हुए हैं, जबकि उससे पहले भी दो दिन लगातार तीस हजार से अधिक मामले दर्ज हुए थे।

    क्या है देश का कोरोना ग्राफ:

    वहीँ अगर हम देश की बात करें तो यहाँ एक बार फिर कोरोना के 59 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं। जिससे देश में चिंता बढ़ गई है। केंद्रीय स्वास्थ मंत्रालय (Union Health Ministry) ने एक सुबह आंकड़े जारी कर बताया कि भारत में पिछले 24 घंटे के भीतर कोरोना के 59,118 नए मामले सामने आए हैं। जबकि 257 लोगों की जान गई है। 

    गौरतलब है कि कोरोना के ताजा मामले जो अभी सामने आए हैं वह पिछले पांच महीने के भीतर देश में एक दिन के अंदर आए मामलों में सबसे अधिक हैं। इन मामलों के सामने आने के बाद देश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या चार लाख के पार चली गई है। साथ ही देश में अब कोरोना मामलों की संख्या 1,18,46,652 पहुंच गई है।