Maharashtra government will spend ₹ 5.43 crore on PR, BJP raises questions
File

मुंबई. भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के नेता और केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे (Union Minister Raosaheb Danve) ने दावा किया है कि, राज्य में महाविकास आघाडी सरकार (Mahavikas Aghadi Government) अगले दो महीने में गिरेगी। इसलिए महाराष्ट्र की राजनीति में अलग-अलग चर्चाओं को बाढ़ आ गई है। इसके बाद, अब दानवे ने सरकार गिरने को लेकर विस्तृत टिप्पणी दी है।

राज्य में दो महीने में सरकार कैसे बदलेगी, ऐसा सवाल पूछा गया। इसपर दानवे ने कहा, “महाविकास आघाडी सरकार आपस के मतभेदों के कारण गिर जाएगी। जनता की नाराजगी, तालमेल की कमी और अंतर्गत कलह इन तीन कारणों की वजह से यह सरकार गिर जाएगी।” उन्होंने कहा, पिछले 35 वर्षों में वैचारिक मतभेदों वाली सरकारों गिरते हुए कई बार देखा है। आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और बिहार में सरकारें उन्हीं कारणों से गिरी हैं।

दानवे ने दावा किया कि, वर्तमान में सरकार में तीनों दल एक दूसरे से असंतुष्ट है। ‘कांग्रेस को लगता है कि, इस सरकार में कांग्रेस को नहीं पूछ रहा है। मुख्यमंत्री शिवसेना का और सभी महत्वपूर्ण खाते राष्ट्रवादी कांग्रेस के पास है। इसलिए कांग्रेस नाराज है। इतना ही नहीं तो, मुख्यमंत्री होने के बावजूद शिवसेना मुश्किल में है। क्योंकि उनके पास महत्वपूर्ण खाते नहीं हैं। इसलिए, सरकार में उनका कुछ नहीं चलता।

दानवे ने कहा, दो महीने में राज्य की सरकार बदल जाएगी। इसलिए, कई लोगों ने सवाल किया है कि, भाजपा ने वास्तव में क्या किया है। इसके बारे में पूछे जाने पर दानवे ने कहा कि, हमने की हुई तैयारी ऐसे जाहिर नहीं कर सकते। साथ ही उन्होंने यह भी दोहराया कि, सरकार केवल उनके मतभेदों के कारण गिर जाएगी और फिर भाजपा एक सक्षम सरकार देगी।