Tope

जालना (महाराष्ट्र). सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में मराठा (Maratha) समुदाय के लोगों को आरक्षण (Reservation) देने की मांग को लेकर महाराष्ट्र के मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) का रास्ता रोकने पर यहां बृहस्पतिवार को एक संगठन के तीन कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पुलिस ने यह जानकारी दी।

उच्चतम न्यायालय ने हाल ही में एक अंतरिम आदेश जारी कर 2018 के उस कानून के क्रियान्वयन पर रोक लगा दी, जिसमें मराठा समुदाय को आरक्षण देने का प्रावधान किया गया है। जालना के टाउन हॉल में ‘मराठवाड़ा मुक्तिसंग्राम दिन’ के अवसर पर एक कार्यक्रम में शिरकत करने के बाद टोपे अपनी कार की ओर जा रहे थे, तभी मराठा महासंघ के चार से पांच कार्यकर्ता ‘‘जय भवानी, जय शिवाजी” और ‘‘हमें चाहिए आरक्षण” के नारे लगाना शुरू कर दिया।

उन्होंने टोपे का रास्ता भी रोका। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस पर पुलिस तुरंत हरकत में आ गई और उन्होंने तीन कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। हैदराबाद के निजाम के नियंत्रण से क्षेत्र के मुक्त होने को लेकर हर साल 17 सितंबर को मराठवाड़ा मुक्तिसंग्राम दिन मनाया जाता है।

Video: Why National Unemployment Day On PM Modi’s Birthday? बेरोजगारी को लेकर PM मोदी पर उठ रहे सवाल |