mohan-bhagwat

  • भागवत ने चीन पर ठोकी PM मोदी की पीठ, कहा- इस बार भारत ने जो ठोकर दी , उससे बुरी तरह सहम गया है चीन
  • दशहरा में अपना संबोधन दे रहे थे सर संघ संचालक मोहन भागवत

नागपुर. आज पुरे देश (India) में दशहरा धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस शुभ अवसर पर हर साल कि तरह इस बार भी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के हेडक्वॉर्टर नागपुर (Nagpur) में शस्त्र पूजा (RSS Dussehra Shastra Puja) की गई है। वहीं इस अवसर पर संघ प्रमुख मोहन भागवत (RSS Chief Mohan Bhagwat) ने अपने संबोधन में देश के कई बड़ी बातों पर लोगों का ध्यान आकर्षित किया है। इस ख़ास मौके पर भगवात ने चीन मुद्दे पर जहाँ PM मोदी (Narendra Modi) की तारीफ़ की वहीं उन्होंने चीन के दोगले रवैये से PM मोदी को सावधान भी रहने को कहा।

भागवत ने चीन पर ताना निशाना:

भागवत ने अपने संबोधन पर कहा कि कोरोना महामारी में चीन का नाम यद् किया जाता है। यह पता नहीं क्या है लेकिन शंकाएं तो है। चीन ने अपने अभिमान के तहत हमारी सीमाओं का जो अतिक्रमण किया और जिस प्रकार किया और अभी भी कर रहा है। वह पूरी दुनिया के सामने अब स्पष्ट हो चूका है।

भारत से डरा चीन: 

अपने संबोधन में आगे RSSचीफ भगवत ने कहा कि,  “चीन के विस्तारवादी स्वभाव को सब जानते हैं और अब समझने भी लगे हैं । इस बार उसने एक साथ ताइवान, वियतनाम, अमेरिका, जापाना और भारत से एक साथ झगड़ा मोल लेकर बैठा है। लेकिन इस बार भारत ने भी पलटकर उसकी जो प्रतिक्रिया दी, उसके चीन भी अब सहम गया है। उसको इस बात से भी धक्का लगा कि भारत उसके सामने तन के खड़ा हो गया है। इसके साथ भारत की सेना ने भी अपनी वीरता का परिचय उसे दे दिया दिया और  भारत के नागरिकों ने अपने प्रधानमंत्री और सेना  का साथ देते हुए  अपनी देशभक्ति का महान परिचय दिया है ।”

दुनिया अब चीन पर चढ़ने लगी है: 

अपने संबोधन में

ने आगे कहा कि,  सामरिक और आर्थिक दृष्टि से भी अब चीन से भी दुनिया को  धक्का मिला है। जिसके चलते अब विश्व के अन्य देश चीन पर चढ़ने लगी है और अब उसके सामने सीना तान के खड़े होने लगी है। अब हमें चीन से और सजग रहना होगा क्योंकि अब वह अपनी प्रतिक्रिया में क्या करेगा हमें पता नहीं । अब हमें चीन से  सामरिक,आर्थिक और कूटनीतिक स्तर पर बड़ा होना होगा तभी हम चीन को रोक पाने में सक्षम हो पाएंगे।