Money Laundering Case : ED's big action against former Maharashtra Home Minister Anil Deshmukh, property worth crores attached
File

    मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) के खिलाफ जारी जांच के बीच ईडी (ED) ने बड़ी कार्रवाई की है। ईडी ने शुक्रवार को अनिल देशमुख की 4 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति कुर्क की है। बताया जा रहा है कि, यह कार्रवाई अनिल देशमुख के खिलाफ जारी मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) केस में की गई है। 

    ईडी द्वारा पूछताछ के लिये भेजे गए कम के कम तीन समन के बावजूद देशमुख (72) जांच एजेंसी के सामने पेश नहीं हुए हैं। केंद्रीय एजेंसी ने उनके बेटे ऋषिकेश और पत्नी को भी समन किया था लेकिन उन्होंने भी बयान दर्ज कराने से इनकार कर दिया। ये समन महाराष्ट्र पुलिस से संबंधित 100 करोड़ रुपये के कथित घूस-सह-वसूली मामले के संबंध में पीएमएलए के तहत दर्ज मामले के सिलसिले में जारी किए गए थे। इसी मामले के चलते देशमुख को इस साल अप्रैल में अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

    राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता देशमुख ने कुछ भी गलत करने से इनकार किया है तथा उनके खिलाफ ईडी की कार्रवाई को उनके वकील ने अनुचित करार दिया था। पूर्व मंत्री ने हाल ही में उच्चतम न्यायालय में एक याचिका दायर कर ईडी द्वारा किसी भी तरह की दंडात्मक कार्रवाई के खिलाफ संरक्षण की मांग की है। 

    इससे पहले मनी लॉन्डरिंग मामले की जांच में जुटी ईडी  पिछले दिनों देशमुख के सहयोगियों को भी अरेस्ट किया था। ईडी ने अनिल देशमुख के पीए कुंदन शिंदे और पीएस संजीव पलांडे को गिरफ्तार किया था। 26 जून को ईडी ने शिंदे और पलांडे को गिरफ्तार किया गया था। बता दें कि, ईडी ने पहले अनिल देशमुख के मुंबई और नागपुर के कई ठिकानों पर छापेमारी भी की थी। इसके बाद ईडी ने अनिल देशमुख को समन जारी कर पूछताछ के लिए भी तलब किया था लेकिन वे अब तक ईडी के सामने पेश नहीं हुए हैं। 

    दरअसल, मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने देशमुख पर 100 करोड़ की वसूली का आरोप लगाया हुआ है। उन्होंने यह भी कहा था कि जब यह बातें होती थी तब अनिल देशमुख के पर्सनल सेक्रेट्री संजीव पलांडे भी कमरे में मौजूद रहा करते थे।

    गौरतलब है कि, पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख के विरुद्ध दर्ज धनशोधन के एक मामले के संबंध में प्रवर्तन निदेशालय ने सचिन वाजे का बयान दर्ज किया है। यह खबर शुक्रवार को आई है। कारोबारी मुकेश अंबानी के आवास एंटीलिया के बाहर एक एसयूवी कार मिलने और मनसुख हिरन हत्याकांड मामले में गिरफ्तार होने के बाद वाजे न्यायिक हिरासत में जेल में है।