Anil Deshmukh Case Updates : CBI approaches Bombay High court, says- Maharashtra government is not co-operating with CBI in investigations
File

    मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व गृह मंत्री (Home Minister) अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) ने उनपर जारी ईडी (ED) की कार्रवाई पर चुप्पी थोड़ी है। अनिल देशमुख ने कहा है कि, वे सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ईडी के सामने पेश होंगे और अपना बयान दर्ज करवाएंगे। बता दें कि,  ईडी ने अनिल देशमुख को तीन समन भेजे हैं लेकिन वे एजेंसी के सामने पेश नहीं हो पाए थे। इसके बाद अनिल देशमुख ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है जिस पर जल्द फैसला आने की उम्मीद है।   

    न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, अनिल देशमुख ने कहा है कि, “ईडी ने मेरे बेटे की 2.60 करोड़ रुपये की संपत्ति समेत 4 करोड़ रुपये की मेरी संपत्ति जब्त की है। मुझे ईडी का समन मिला है और मैंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है, कोर्ट के फैसले के बाद मैं ईडी के सामने अपना बयान दर्ज कराऊंगा।” 

    इससे पहले ईडी ने रविवार को नागपुर में अनिल देशमुख की दो संपत्तियों पर छापेमारी की थी। गौरतलब है कि, शुक्रवार को महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री के खिलाफ जारी जांच के बीच ईडी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अनिल देशमुख की 4 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति को अटैज किया था। 

    ईडी की जांच तब शुरू थी जब अनिल देशमुख पर मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए थे। इसके बाद देशमुख पर 100 करोड़ रुपये के कथित वसूली मामले के संबंध में PMLA के तहत दर्ज मामले में कार्रवाई शुरू हुई थी। इसी कड़ी में ईडी ने देशमुख के पीए और पीएस को भी गिरफ्तार किया था।