Corona-

    मुंबई: भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) बेकाबू नजर आ रहा है। कोविड (COVID-19) से संक्रमित मरीजों की बढती संख्या ने सरकार की चिंता बढ़ा रखी है। कोरोना को लेकर महाराष्ट्र एक बार फिर टॉप पर बना हुआ है। इसके साथ ही मुंबई (Mumbai) में कोरोना की दूसरी लहर काफी खतरनाक नजर आ रही है। बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने एक बयान में कहा कि मुंबई में कोरोना की दूसरी लहर का आगाज हो गया है। इसके पीछे की वजह है 74 हजार कोरोना के ऐसे मामले होना जिनमें कोई लक्षण नहीं है।

    बता दें कि बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने जानकारी देते हुए कहा कि मुंबई में 49 दिनों के भीतर कोरोना के 91 हजार मामले सामने आए हैं। लेकिन इनमें से 74 हजार ऐसे हैं जिनमें कोविड के कोई लक्षण नहीं दिखाई दिए हैं। साथ ही 17 हजार लोगों में कोरोना के लक्षण दिखाई पड़े हैं। 

    वहीं जिन लोगों में कोरोना के लक्षण नहीं है लेकिन वो कोविड पॉजिटिव हैं तो उन पर स्टंप लगाया गया है। अगर वो पब्लिक प्लेस पर घूमते दिखाई पड़ते है तो उनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा।

    उल्लेखनीय है कि मुंबई में कोरोना के चलते 9900 बेड्स भर गए हैं। साथ ही 4000 बेड्स के लिए इसी सप्ताह ऑनलाइन सुविधा शुरू की जाएगी। बीएमसी कमिश्नर ने कहा कि सरकार लॉकडाउन नहीं लगाना चाहती है। लोग सही से कोरोना नियमों का पालन करें ताकि मामले काबू में आएं।