मुंबई पुलिस ने अर्नब गोस्वामी को भेजा कारण बताओ नोटिस

  • सहायक पुलिस आयुक्त (दंडाधिकारी) के समक्ष होना होगा पेश

– शीतला सिंह

मुंबई. मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है और उनसे पूछा है कि क्यों न सीआरपीसी की धारा 108 के अंतर्गत उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू की जाए. वरली डिविजन के सहायक पुलिस आयुक्त (दंडाधिकारी) सुधीर जांबवडेकर के समकक्ष 16 अक्टूबर को उपस्थित होकर नोटिस का जवाब देने को कहा गया है.

नोटिस में दो घटनाओं पालघर जिले में साधुओं की पीट-पीटकर हत्या और बांद्रा में लॉकडाउन के दौरान प्रवासियों के एकजुट होने के मुद्दे पर आपत्तिजनक कवरेज का जिक्र किया गया है. रिपब्लिक चैनल ने इन दो घटनाओं को साम्प्रदायिक रंग देने और हिन्दू एवं मुस्लिमों के बीच तनाव भड़काने की कोशिश करने का आरोप है. अर्नब गोस्वामी के खिलाफ मुंबई में दो एफआईआर दर्ज की गई हैं. एक एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन और दूसरी पायधुनी पुलिस स्टेशन में दर्ज की गयी है. दोनों ही मामलों में एक ही तरह के आरोप अर्नब के खिलाफ लगाए गए है.

एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक ने सहायक पुलिस आयुक्त को एक प्रस्ताव भेज कर अर्नब के खिलाफ प्रिवेंटिव कार्रवाई की मांग की है. इस प्रस्ताव पर सहायक पुलिस आयुक्त ने कार्रवाई शुरू कर दी है. एसीपी जांबडेकर ने इसकी पुष्टि की है. नोटिस में यह कहा गया कि अर्नब के चैनल ने साम्प्रदायिक तनाव को फैलाया. यूट्यूब पर अर्नब शो में गाली गलौज, साम्प्रदायिक और घृणास्पद दर्शकों की टिप्पणियों को देखा जा सकता है.