The number of patients undergoing corona in Maharashtra may double in the next 15 days, CM Thackeray's letter to PM Modi, said- declare covid-19 a natural disaster

मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Udhav Thackeray) ने मंगलवार को विधानसभा (Assembly) को आश्वासन दिया कि मौजूदा ओबीसी कोटा (OBC quota) बरकरार रहेगा और ओबीसी कोटे में मराठाओं को शामिल करने की अफवाह फैला कर समाज में भेदभाव पैदा करने के प्रयासों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ठाकरे ने कहा कि शिवसेना (Shivsena) ने हिंदुत्व (Hindutv) को नहीं छोड़ा है। (OBC quota will not be tampered with, Marathas need not worry: Thackeray)

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार (State Government), प्राचीन संस्कृति (Ancient culture) और परम्पराओं को प्रोत्साहित करने के लिए प्राचीन मंदिरों (Ancient temples) के पुनरुद्धार और रख रखाव का काम करेगी। उन्होंने कहा कि यह परियोजना चरणबद्ध तरीके से पूरी की जाएगी और मंदिरों की पहचान करने में विपक्ष को भी मदद करनी चाहिए। भाजपा (Alochana) की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि इस परियोजना से यह सिद्ध होता है, “हमने हिंदुत्व को नहीं छोड़ा है।” ठाकरे ने स्पष्ट किया कि ओबीसी कोटे से छेड़छाड़ नहीं की जाएगी।

उन्होंने कहा कि मराठाओं को ओबीसी कोटे में आरक्षण देने की अफवाह फैलाकर समाज में भेदभाव फैलाने की कोशिश की जा रही है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने भाजपा की आलोचना करते हुए कहा कि भाजपा ऐसी अफवाह फैला रही है कि मराठाओं को ओबीसी कोटे में से आरक्षण दिया जाएगा। उन्होंने कहा, “मराठा कोटे के लिए कानूनी लड़ाई अंतिम चरण में है। हमने मराठा कोटा पर न तो अपनी कानूनी टीम बदली है, न रुख बदला है। हम कानूनी लड़ाई जीतेंगे।” (एजेंसी)