प्रताप सरनाईक और बेटे विहंग को SC से राहत

  • सुप्रीम कोर्ट ने गिरफ्तारी पर लगायी रोक

मुंबई. शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक (Shivsena MLA Pratap Sarnaik) को सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने बड़ी राहत दी है और प्रवर्तन निर्देशालय (ED) को आदेश दिया है कि फिलहाल प्रताप सरनाईक व उनके परिजनों के खिलाफ किसी तरह की कोई कार्रवाई न की जाये।

बता दें कि टॉप ग्रुप सिक्युरिटी (Top Group Security)  एमएमआरडीए (MMRDA) में हुई आर्थिक गड़बड़ी के मामले में प्रवर्तन निर्देशालय ने विधायक प्रताप सरनाईक सहित उनके बेटे विहंग सरनाईक के घर पर छापा मारा था। साथ ही विहंग सरनाईक की जांच करते हुए प्रताप सरनाईक को जांच हेतु उपस्थित रहने की नोटीस भेजी गयी थी। लेकिन प्रताप सरनाईक अब तक ईडी के कार्यालय में उपस्थित नहीं हुए। वहीं अब सुप्रीम कोर्ट ने सरनाईक परिवार की गिरफ्तारी पर रोक लगायी है.

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि किसी के भी खिलाफ बदले की भावना से कोई कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। जब प्रताप सरनाईक से पूछताछ की जायेगी तो उस समय उनके वकील की उपस्थिति में इस पूछताछ का वीडियो रिकॉर्डिंग किया जायेगा। लेकिन पूछताछ के दौरान उनके वकील को किसी की कोई आवाज सुनाई नहीं देगी, बल्कि वे इस वीडियो के जरिये पूछताछ की प्रक्रिया को देख सकेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि प्रवर्तन निर्देशालय द्वारा सरनाईक परिवार के सदस्यों को पूछताछ हेतु बुलाया जा सकता है, लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जा सकता।