Providing health facilities is the priority of the state government- Chief Minister Uddhav Thackeray

बुलढाणा. राज्य में बढ़ते कोरोना मामलों की पृष्ठभूमि पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, “राज्य में कोरोना के संकट में स्वास्थ्य सुविधाओं का निर्माण और मजबूती यही सरकार की प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री बुलढाणा में कोरोना अस्पताल के ऑनलाइन उदघाटन में बोल रहे थे।  

मुख्यमंत्री ने कहा, स्वास्थ्य सुविधा मजबूत करने के साथ-साथ प्रशिक्षित चिकित्सा जनशक्ति का निर्माण करना भी आवश्यक है। इसके लिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आश्वासन दिया कि, बुलढाणा में सरकारी चिकित्सा महाविद्यालय के प्रस्ताव को मंजूरी दी जाएगी।  

इस दौरान मुख्यमंत्री ने टाटा समूह को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, वर्तमान में तकनीकी की मदद से हर कोई अपने-अपने घर से कार्यक्रमों में शामिल हो रहे है। कोरोना ने जीवन के बारे में अपना दृष्टिकोण बदल दिया है। वहीं कोरोना के संकट में भी दैनिक कार्य जारी रखना आवश्यक है। दूसरी ओर लोगों की रक्षा करना भी जरूरी है और यह सब लोगों के सहयोग से ही हो सकता है। 

मुख्यमंत्री ने कहा, कोरोना के कारण ऑनलाइन तकनीकी का उपयोग शिक्षा से लेकर कार्यालयों में भी होने लगा है। केवल अपडेट सुविधाएं प्रदान करने से मरीज ठीक नहीं होगा। इसके लिए डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ जैसा प्रशिक्षित मैनपावर तैयार करना आवश्यक है।

गौरतलब है कि, राज्य में पिछले 24 घंटों में 9 हजार 181 नए मरीज पाए गए है। इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या 5 लाख 24 हजार 513 हो गई है। इनमे से 3 लाख 58 हजार 421 मरीज कोरोनामुक्त हो गए है। वर्तमान में 1 लाख 47 हजार 735 मरीजों पर इलाज चल रहा है। वहीं अब तक राज्य में कोरोना के 18 हजार 50 मरीजों की मौत गई हैं।