राणे ने दी, मातोश्री के अंदर का काला चिट्ठा खोलने की चेतावनी

  • कहा, मेंढक एक दिशा में चलता है लेकिन केंचुआ दोनों तरफ

मुंबई. शिवसेना (Shivsena) की दशहरा रैली (Dassehra Rally) के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Udhav Thackeray) पर विपक्ष का हमला तेज हो गया है. पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे (Narayan Rane) ने चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि मैं मातोश्री (Matoshree) का काला चिट्ठा खोलूंगा तो बहुत भारी पड़ेगा. उन्होंने कहा कि हमारी तरफ नजर मत घुमाओ. नहीं तो कपड़े संभालते भागना पड़ेगा.

दशहरा रैली में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने नाम नहीं लेते हुए नारायण राणे व उनके दोनों बेटों को लेकर तल्ख टिप्पणी की थी. ठाकरे ने राणे के लिए मेंढक शब्द का इस्तेमाल किया था. 

मुंबई में आयोजित पत्रकार परिषद में राणे ने कहा कि इतने वर्षों तक शिवसेना प्रमुख की वजह से चुप बैठा था.लेकिन यदि इस तरह का दुस्साहस दोबारा किया गया तो 39 वर्षों तक शिवसेना में रहकर जो देखा, अनुभव किया है, वह सब बाहर आएगा.  उन्होंने कहा कि चुनाव के पहले  हिंदुत्व मुख्यमंत्री बनते हुए यह सेक्युलर केंचुए जैसा हो गया.यदि बाल ठाकरे होते तो उद्धव को मुख्यमंत्री नहीं बनाते. मेंढक एक दिशा में जाता है जबकि केंचुआ दोनों तरफ.