Sushant Death Case: Rhea Chakraborty still has to stay in jail, court congratulated custody till 20 October

    मुंबई: दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत को एक साल होने वाला है। लेकिन, अभी भी इस मामले में नए-नए खुलासे हो रहे हैं। वहीं ड्रग्स केस में जांच कर रही एनसीबी (NCB) ने जांच की गति बढ़ा दी है। इसी बीच ड्रग्स मामले में मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती (Reha Chokrobarty) ने बड़ा खुलासा किया है। एनसीबी को दिए अपने बयान में रिया ने कहा है कि, सुशांत को मरिजुआना (गांजा) की लत थी, इस बारे में उनके परिवार वाले पहले से जानते थे।”

    बहन- जीजा लाते थे गांजा 

    एनसीबी को लिखित में दिए अपने बयान में रिया चक्रवर्ती ने कहा, “सुशांत की बहन उसकी बहन प्रियंका और जीजा सिद्धार्थ मारिजुआना का सेवन किया करते थे. इतना ही नहीं वो सुशांत के लिए भी ये सब लाया करते थे।” रिया ने आगे कहा कि, वह मुझसे मिलने से पहले ही इसका सेवन करते थे, और उनके परिवार वाले भी जानते थे की सुशांत को मरिजुआना की लत थी।”

    सुशांत कुछ दवाइयां ले रहे थे 

    रिया ने अपने बयान में कहा कि, सुशांत सिंह राजपूत कुछ दवाओं का सेवन कर रहे थे, जो कि डॉक्टर निकिता की प्रिस्क्रिप्शन है। इन दवाओं के बारे में मैंने और शोविक ने डॉक्टर से भी बातचीत की। उन्होंने उन दवाओं को प्रिस्क्रिप्शन के मुताबिक जारी रखने का सुझाव दिया।”

    रिया ने आगे कहा, ‘मैं यह भी जोड़ना चाहती हूं कि 8 जून 2020 को सुशांत सिंह राजपूत को उनकी बहन एक व्हाट्सऐप मैसेज किया, जिसमें उन्होंने कई दवाओं को सेवन करने की सलाह दी। मैं बताना चाहती हूं कि ये ड्रग्स थे एनडीपीएस में. इनमें कई ऐसी दवाइयां थीं ज‍िनका सेवन खतरनाक साब‍ित हो सकता था।”

    सुशांत को अस्पताल में भर्ती कराना चाहती थीं

    र‍िया चक्रवर्ती ने NCB को द‍िए अपने इस ल‍िख‍ित बयान में बताया है कि वह और उनका भाई शोविक सुशांत की ब‍िगड़ती हालत के लिए उसे अस्‍पताल में भर्ती कराना चाहते थे लेकिन सुशांत इसके लिए राजी नहीं हुए थे।  र‍िया ने कहा कि सुशांत ने कई बार उसे भी ड्रग्‍स ऑफर की। साथ ही वह इसल‍िए भी उससे म‍िलता था ताकि र‍िया सुशांत के लिए ड्रग्‍स मुहैया करा सके। 

    वहीं र‍िया ने अपने बयान में कहा है कि, “8 जून को सुशांत की बहन प्र‍ियंका ने दवाइयों का एक वॉट्सएप मैसेज भेजा ज‍िसमें कुछ दवाओं का ज‍िक्र था जो सुशांत के लेने के लिए कहा गया। इनमें कई ऐसी दवाइयां थीं ज‍िनका सेवन खतरनाक साब‍ित हो सकता था।”