Sachin Vaze
File Photo

    मुंबई. कांग्रेस (Congress)  ने शनिवार (Saturday) को राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) पर सचिन वाजे (Sachin Vaze) मामले की जारी जांच में सबूतों को दबाने का आरोप लगाया। महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘ सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन वाजे का कार्यालय तब के मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह के कार्यालय से महज 200 फुट की दूरी पर स्थिति था। उसकी सीधी पहुंच सिंह तक थी लेकिन एनआईए बम धमकी मामले में सिंह की जांच नहीं कर रही है।”

    उन्होंने कहा, ‘‘ एनआईए वाजे के वरिष्ठ अधिकारियों व परमबीर सिंह के खिलाफ जांच नहीं कर रही है जिससे आशंका बढ़ रही है। एजेंसी जानबूझकर कुछ सबूतों को दबा रही है।” उल्लेखनीय है कि 25 फरवरी को दक्षिण मुंबई स्थित उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के नजदीक विस्फोट से लदी स्कॉर्पियों एसयूवी कार मिली थी और इस मामले में एनआई ने 13 मार्च को वाजे (46 वर्षीय) को गिरफ्तार किया था।

    ठाणे के कारोबारी मनसुख हिरन की कथित हत्या में भूमिका के आरोप में भी वाजे की जांच हो रही है। हिरन पांच मार्च को ठाणे की क्रीक पर मृत मिला था और वह अंबानी के घर के पास मिली एसयूवी कार का मालिक था।