ओबीसी आरक्षण में हिस्सेदारी स्वीकार्य नहीं

  • फडणवीस ने दी आंदोलन की चेतावनी
  • छगन भुजबल पर भी साधा निशाना

मुंबई. पूर्व मुख्यमंत्री एवं विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis)ने कहा है कि मराठा समाज (Maratha society) के लोगों को आरक्षण (Reservation) मिलना ही चाहिए, इसमें किसी तरह की शंका या दो मत नहीं है। लेकिन ओबीसी के आरक्षण (OBC Reservations) में हम किसी तरह की हिस्सेदारी स्वीकार्य नहीं करेंगे। यदि ओबीसी के आरक्षण में किसी तरह की  कमी आएगी तो हम सड़क पर उतर कर विरोध करेंगे।

उन्होंने नाम नहीं लेते हुए खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल (Chhagan Bhujbal) पर निशाना साधा। फडणवीस ने कहा कि सरकार में शामिल मंत्री ओबीसी आरक्षण के लिए मोर्चा निकाल रहे हैं। मोर्चा निकालने के पहले उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए था। ओबीसी आरक्षण (OBC Reservations) को लेकर कांग्रेस एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को अपनी अधिकृत भूमिका स्पष्ट करनी चाहिए। 

विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस रविवार को  दादर स्थित पार्टी मुख्यालय में भाजपा ओबीसी मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल, संगठन मंत्री विजय पुराणिक, भाजपा ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष योगेश टिलेकर (Yogesh Tilekar) सहित अन्य लोग मौजूद थे। 

फडणवीस ने कहा कि मराठा समाज को आरक्षण देते समय हमने उसमें यह धारा जोड़ी थी कि इससे ओबीसी के आरक्षण में किसी तरह की कमी नहीं होगी। सर्वोच्च न्यायालय ने मराठा आरक्षण को स्थगिति दी है, लेकिन उस धारा को किसी तरह स्थगिति नहीं दी गयी है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा है कि ओबीसी आरक्षण को हाथ लगाया तो खबरदार! भाजपा सड़क पर उतर कर आंदोलन करेगी।  

सरकार के खिलाफ मंत्री नहीं निकाल सकते मोर्चा 

उन्होंने कहा कि सरकार में शामिल मंत्री ही ओबीसी आरक्षण के लिए मोर्चा निकाल रहे हैं। सरकार के खिलाफ मंत्री मोर्चा नहीं निकाल सकते हैं, मोर्चा निकालना है तो मंत्री पद से इस्तीफा देना चाहिए। आप को सरकार में निर्णय लेने का अधिकार है। ओबीसी आरक्षण पर सरकार  में शामिल घटक दल अलग-अलग भूमिका लेते दिख रहे हैं। कांग्रेस एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस के लोग अपनी भूमिका स्पष्ट करने की बजाय समाज के लोगों को गुमराह कर रहे हैं। एमपीएससी परीक्षा, नौकरी जैसे मुद्दों पर सरकार निर्णय नहीं ले रही है। भाजपा ओबीसी समाज के साथ मुस्तैदी के साथ खड़ी है।

फडणवीस ने कहा कि भाजपा ओबीसी मोर्चा ओबीसी समाज की आवाज  है, वंचितों के अधिकार के लिए संघर्ष ओबीसी मोर्चा कर रहा है। महाज्योति, ओबीसी विकास महामंडल को सरकार ने एक भी पैसा नहीं दिया है। भाजपा सरकार ने उस समय 500 करोड़ दिया था उसमें से 200 करोड़ रुपए जमा है, जिसका उपयोग नहीं हो रहा है।