Ireland included India in its list of compulsory isolation countries list
File

    मुंबई. आज महाराष्ट्र (Maharashtra) में चारो तरफ कोरोना (Corona) की दूसरी लहर के चलते, त्राहि-त्राहि मची हुई है।   कोरोना की इस दूसरी लहर को काबू करने के लिए अब उद्धव सरकार (Udhhav Thackeray ने राज्य में पाबंदियां भी लागू कर रखी हैं।   लेकिन अब इस मुद्दे पर महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने कहा कि कोरोना के इन बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य में लागू पाबंदियां एक मई से भी आगे बढ़ाई जा सकती हैं।   

    क्या कहना है स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का:

    दरअसल स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे बीते शनिवार को में कुछ पत्रकारों से बात कर रहे थे।   यहाँ उन्होंने कहा कि, “लोग राज्य में लगी हुई इन पाबंदियां को लेकर हमार सहयोग कर रहे हैं।   हम फिलहाल स्थिति का जायजा भी ले रहे हैं। कोरोना प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए लागू CRPC की धारा 144 के उल्लंघन के कुछ मामले भी अभी सामने आए हैं। क्या हम इन पाबंदियों को एक मई से आगे बढ़ा सकते हैं, यह समय और स्थिति पर ही निर्भर करेगा।” 

    इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आने वाले 15 दिनों के के परिणामों (जब से प्रतिबंध लागू हुए) की समीक्षा करने के बाद ही कोई ठोस निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि, “मुझे अब यह स्वीकार करना चाहिए कि लोग पाबंदियों को लेकर सहयोगात्मक रहे हैं।” हालाँकि स्वास्थ्य मंत्री टोपे कोरोना संक्रमण के मामलों को काबू में करने के लिए कड़े उपाय करने और लोगों की आवाजाही पर भी रोक लगाने पर पहले से जोर देते रहे हैं। वहीं उद्धव सरकार ने  राज्य में 14 अप्रैल को ‘ब्रेक द चेन’ पहल के तहत राज्य में कई पाबंदियों की घोषणा भी की थी।

    क्या है महाराष्ट्र का कोरोना ग्राफ:

    स्वास्थ मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार बीते शनिवार को देर रात आठ बजे तक कोरोना वायरस की चपेट में आने से 419 लोगों की मौत (Death) हो गई जबकि 67,123 नए कोविड केस सामने आए हैं। यह आंकड़े शुक्रवार के मुकाबले कहीं ज़्यादा हैं। वहीं महाराष्ट्र के सबसे ज़्यादा प्रभावित शहरों में शुमार मुंबई में भी कोरोना के डरा देने वाले आंकड़े  सामने आए हैं। बीते शनिवार को मुंबई में पिछले 24 घंटों में कोरोना की चपेट में आने से 52 लोगों की मौत हो गई जबकि शहर में 8,834 नए कोरोना मामले सामने आए हैं। इस पारकर राज्य भर में कोरोना संक्रमण की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है।

    इसके साथ ही मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि, मुंबई में कोरोना की रफ्तार रोकने के लिए लिए BMC की तरफ से किए जा रहे सभी उपाय विफल साबित हो रहे हैं। वहीं इन आंकड़ों कि भयावहता को देस्खते हुए लग रहा है कि कोरोना से बचने के लिए अब राज्य सरकार के पास कंप्लीट लॉकडाउन (Complete Lockdown) लगाना ही एकमात्र विकल्प बचा है।