supreme-court-refuses-to-lift-moratorium-on-maratha-reservation

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने मराठा आरक्षण (Maratha Reservation) पर अंतरिम रोक हटाने से इनकार कर दिया है।

  • अगली सुनवाई जनवरी के लिए लगाई गई है

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने मराठा आरक्षण (Maratha Reservation) पर अंतरिम रोक हटाने से इनकार कर दिया है। महाराष्ट्र सरकार की ओर से सरकार के अधिवक्ताओं ने कई उदाहरण दिए और अंतरिम रोक को हटाने की मांग की। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court)  ने कहा है कि स्टे को तुरंत नहीं हटाया जाएगा। अगली सुनवाई जनवरी के तीसरे या चौथे सप्ताह के लिए निर्धारित है। आगे मराठा आरक्षण का क्या होगा इस पर लड़ाई जारी है। यह मामला गंभीर और बड़ा है, इसलिए जनवरी में एक सुनवाई होगी।

दरअसल, ठाकरे सरकार का बचाव कर रहे मुकुल रहतोगी ने पूछा था कि इन सब में छात्रों को कितना नुकसान होगा, नौकरी भर्ती का क्या होगा।जिसके जवाब में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कहा, “हमने किसी भी भर्ती को रोकने से इनकार नहीं किया है।” हालांकि, अदालत ने कहा कि भर्ती अधिनियम के तहत नहीं की जा सकती। 

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की तीन न्यायाधीशों वाली बेंच ने मराठा आरक्षण मामले को पांच न्यायाधीशों वाली बेंच के पास भेज दिया था। शीर्ष अदालत ने आरक्षण पर रोक बरकरार रखी है जबकि आज इसे हटाए जाने की उम्मीद थी।