Sanjay raut

    मुंबई. एक प्रश्न जो सबके क्या महाराष्ट्र (Maharashtra) की महाविकास अघाड़ी सरकार में सबकुछ सही चल रहा है या कुछ और हो रहा है? वहीं अब शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) के एक तीखे बयान के बाद ये सवाल फिर उठने लगा है। दरअसल राउत ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Udhhav Thackeray) के हवाले से अकेले चुनाव लड़ने की बात कर रहे लोगों को यह साफ़ कहा है कि जिन्हें अकेले चुनाव लड़ना है वो जरुर लड़े।

    आज संजय राउत ने कहा कि, “कल शिवसेना का 55वां स्थापना दिवस था। इस अवसर पर CM ने बताया कि आने वाले दिनों में पार्टी की क्या भूमिका रहेगी। उन्होंने ये भी बताया कि महाराष्ट्र में जो अकेले चुनाव लड़ने की बात कर रहें, अगर वो ऐसा करेंगे तो हम क्या ऐसे ही बैठे रहेंगे? जिसे लड़ना है वो जरुर लड़े। शिवसेना ने राजनीतिक लड़ाई अपने ताकत पर लड़ी है। चाहे चुनाव में गठबंधन हो या न हो, लेकिन लड़ाई अपने ताकत पर ही तो लड़ी जाती है।”

    इशारों ही इशारों में बहुत कुछ बोल गए CM उद्धव ठाकरे :

    दरअसल CM उद्धव ठाकरे ने महाविकास अघाडी सरकार में शामिल कांग्रेस का सीधे नाम लिए बिना निशाने पर लिया। बता दें कि कांग्रेस के नेता अकेले दम पर चुनाव लड़ने का ऐलान कर रहे हैं। इस पर उद्धव ठाकरे ने बीते शनिवार को कहा था कि खुद के दम पर चुनाव लड़ने की बात करोगे तो लोग चप्पल से ही मारेंगे। सिर्फ इतना ही नहीं मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि जिनकी तलवार उठाने की ताकत नहीं और वे अब खुद के दम पर चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं। 

    वहीं 55वें स्थापना दिवस के मौके पर अपने भाषण की शुरुआत में ही CM उद्धव ठाकरे ने सत्ता से दूर BJP का नाम लिए बगैर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, “सत्ता के चले जाने की वजह से फिलहाल कई लोगों के पेट में असहनीय दर्द हो रहा है। अब उनको दवाई देने के लिए मैं कोई डॉक्टर नहीं बैठा हूं। लेकिन जब जरूरत होगी तब राजनीतिक दवाई जरुर देता हूं।” फिलहाल तो शिवसेना-कांग्रेस में रार पड़ती दिख रही है।