arrest

मुंबई. मुंबई (Mumbai) पुलिस (Police) ने टीआरपी(TRP) की कथित हेराफेरी से संबंधित मामले में सोमवार को एक और व्यक्ति को गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने बताया कि इस गिरफ्तारी के साथ ही इस मामले में अब तक पांच आरोपियों  को हिरासत (Arrest) में लिया जा चुका है। उन्होंने बताया कि हंसा रिसर्च एजेंसी के पूर्व कर्मचारी विनय त्रिपाठी को मुंबई पुलिस की अपराध शाखा ने उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर से गिरफ्तार किया।

अधिकारी ने बताया कि त्रिपाठी पूर्व में एजेंसी में बतौर ‘रिलेशनशिप मैनेजर’ के पद पर कार्यरत था। इस बीच, हंसा के मुख्य परिचालन अधिकारी प्रवीण निजारा और कंपनी के उप प्रबंधक नितिन दिओकर से भी अपराध शाखा ने कथित टीआरपी (टेलीविजन रेटिंग प्वाइंट्स) घोटाले के संबंध में सोमवार को पूछताछ की। अधिकारी ने कहा कि इस मामले में रिपब्लिक टीवी के मुख्य वित्तीय अधिकारी (सीएफओ) शिवम सुंदरम मंगलवार को अपराध शाखा के समक्ष पेश हो सकते हैं। अधिकारियों के मुताबिक, त्रिपाठी ही वह व्यक्ति था जोकि कुछ चुनिंदा चैनलों को देखे जाने के लिए गिरफ्तार आरोपी विशाल भंडारी को पैसे देता था।