Sensex down

मुंबई: वैश्विक बाजारों (Global Markets) के मिलेजुले रुख (Mixing Stance) के बीच निवेशकों की मुनाफावसूली (Profit Booking) से बुधवार को सेंसेक्स (Sensex) रिकॉर्ड स्तर को छूने के बाद फिसल (Slipped) गया और 25 अंक के नुकसान (Loss) के साथ बंद हुआ। बीएसई (BSE) का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 721 अंक ऊपर नीचे हुआ। अंत में यह 24.79 अंक या 0.05 प्रतिशत के नुकसान से 49,492.32 अंक पर बंद हुआ। 

दिन में कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 49,795.19 अंक का अपना सर्वकालिक उच्चस्तर (All Time High Level) भी छुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (National Stock Exchange) का निफ्टी 1.40 अंक या 0.01 प्रतिशत के लाभ से 14,564.85 अंक के अपने नए रिकॉर्ड पर बंद हुआ। दिन में कारोबार के दौरान इसने 14,653.35 अंक का सर्वकालिक उच्चस्तर भी छुआ। 

सेंसेक्स की कंपनियों में महिंद्रा एंड महिंद्रा का शेयर सबसे अधिक करीब छह प्रतिशत चढ़ गया। एसबीआई, आईटीसी, एनटीपीसी, भारती एयरटेल और ओएनजीसी के शेयर भी लाभ में रहे। वहीं दूसरी ओर बजाज फाइनेंस, एचडीएफसी, बजाज फिनसर्व, टाइटन, सन फार्मा और डॉ. रेड्डीज के शेयरों में गिरावट आई। रिलायंस सिक्योरिटीज के प्रमुख-रणनीति विनोद मोदी ने कहा कि घरेलू शेयर बाजारों में उतार-चढ़ाव रहा और इसने अपना शुरुआती लाभ गंवा दिया। 

बड़ी संख्या में शेयरों में मुनाफावसूली का सिलसिला चला। उन्होंने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि दिसंबर, 2020 के उच्च चक्रीय महत्वपूर्ण आर्थिक आंकड़ों में सुधार बाजार मांग बढ़ने का संकेत है। यह बाजार की दृष्टि से अच्छा है।” 

अन्य एशियाई बाजारों में चीन के शंघाई कम्पोजिट तथा हांगकांग के हैंगसेंग में गिरावट आई। वहीं दक्षिण कोरिया के कॉस्पी और जापान के निक्की में लाभ रहा। शुरुआती कारोबार में यूरोपीय बाजार लाभ में थे। इस बीच, वैश्विक बाजार में ब्रेंट कच्चा तेल 0.28 प्रतिशत की बढ़त के साथ 56.74 प्रति डॉलर पर पहुंच गया। (एजेंसी)