आशुतोष आत्महत्या मामले में 4 गिरफ्तार

  • 7 दिन तक पुलिस रिमांड 

नालासोपारा. पूर्व के गालानगर निवासी एक 29 वर्षीय युवक द्वारा एक्सप्रेस ट्रेन के सामने छलांग लगाकर आत्महत्या के मामले में तुलिज पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त कर ली है. पकड़े गए सभी आरोपियों को पुलिस ने न्यायालय में प्रस्तुत किया, जहां उन्हें 7 दिनों तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश मिला है. 

उल्लेखनीय है कि मृतक युवक की शादी 30 नवम्बर 2019 को होने वाली थी, लेकिन आरोप है कि शादी के पूर्व ही 4 आरोपियों द्वारा उसे मानसिक तनाव देकर आत्महत्या के लिए विवश किया गया था, जिसके पश्चात उसने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या की थी.जानकारी के अनुसार आशुतोष हनुमंत सिंह ,ए/102,चंद्रेश दर्शन,एमडी,गाला नगर,अचोले रोड,नालासोपारा (पूर्व) में परिजनों के साथ रहता था. बताया गया है कि आरोपियों द्वारा पीवीआर क्लासेस में पाटर्नरशिप देने के नाम पर आशुतोष सिंह से 20 लाख रुपये लिए थे, लेकिन पाटर्नरशिप देने के बजाय आरोपियों ने सिंह को अंधकार में रखा. इसके पश्चात आरोपियों ने ना ही उसे पार्टनर बनाया ना उसके पैसे वापस दिए.

मुखबीर की सूचना पर हुई गिरफ्तारी

इसके अलावा  धमकाते थे कि उसके खिलाफ फर्जी मुकदमा दर्ज करवा कर उसे फंसा देंगे. जिसके कारण सिंह काफी तनाव में चल रहे थे. 8 नवम्बर की शाम 7:10 बजे के आसपास सिंह ने वसई रोड रेलवे स्टेशन स्थित हॉलीडे एक्सप्रेस गाड़ी के सामने छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली थी. तुलिंज पुलिस ने मृतक आशुतोष सिंह के भाई सन्दीप सिंह की शिकायत के आधार पर आरोपी राहुल बसंतीलाल जैन,वैभव अवस्थी,नरसिंह उर्फ राम परमार और प्रमोद मोरे के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उनकी तलाश में जुटी थी. इस बीच चारों आरोपियों ने जमानत का प्रयास किया, लेकिन 24 सितंबर को इनका बेल रिजेक्ट हो गया था, जिसके बाद वे फरार चल रहे थे. मुखबीर की सूचना पर पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त कर ली.