Corona

  • मुंबई में 1% पर आया डेथ रेट

मुंबई. मुंबई में बीएसमी की तरफ से उठाए गए कदमों के कारण मुंबई में डेथ रेट कम करने में सफलता मिली है. मई महीने में मुंबई का डेथ 6 प्रतिशत था. डेथ रेट कम करने के लिए के बीएमसी की तरफ किए गए तमाम उपायों के बाद डेथ रेट 1 प्रतिशत पर लाने में सफलता मिली है. हालांकि मुंबई की अपेक्षा राज्य में अब भी डेथ रेट 2.63 प्रतिशत है. राज्य में शनिवार को कोरोना के 5,760 नए मरीज मिले जबकि 60 मरीजों की मौत हुई है.

बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने बताया कि तीन प्रमुख पॅरामीटर के तहत बीएमसी ने कोविड-19 की रोकथाम करने में सफल रहे हैं. नवंबर में दीवाली के 4 दिन छोड़ कर रोज 18,000 लोगों के जांच किए. दीपावली के आसपास उन 4 से 5 दिनों में जांच की संख्या 5 हजार से 7 हजार थी, लेकिन दीपावली बाद जांच की संख्या 18,000  तक पहुंच गई है. पिछले सप्ताह कोरोना के सबसे कम मरीज केवल 491 थी. पॉजिटिवटी रेट भी  9% था, वर्तमान में पॉजिटिव रेट  घटकर 5.8% पर आ गया है.  मुंबई में मार्च के बाद यह सबसे कम पॉजिटिव रेट है.

डबलिंग रेट भी बढ़ कर 310 दिन हो गया 

चहल ने बताया कि गत 3 महीनों में  मृत्यु दर लगभग 2% रही, लेकिन अक्टूबर महीने से 1% पर आ गई है.इसके अलावा डबलिंग रेट भी बढ़ कर 310 दिन हो गया है. मुंबई में संक्रमण की दर 0.2% पर आ गई है.  फिर हमारे पास 9,600 बेड रिक्त पड़े हैं.  867 आईसीयू  बेड भी मुंबई के विभिन्न अस्पतालों में खाली हैं. सबसे अच्छी बात यह है कि मुंबई में सिर्फ 8,600 सक्रिय मामले हैं. मुंबई में  एक समय था जब 40 हजार सक्रिय मामले थे. मुंबई के विभिन्न अस्पतालों में केवल 2,600 मरीज ही हैं जिनका इलाज चल रहा है.

मुंबई में मिले 1093 नए मरीज

शनिवार को मुंबई में नए मरीजों की संख्या 1093 रही. 17 मरीजों की मौत हुई है. मुंबई में कुल मरीजों की संख्या 2लाख 74 हजार 579 हो गई है. अब तक 2 लाख 50 हजार 742 है. 10,656 मरीजों की मौत हो चुकी है. इसी प्रकार राज्य में 5,760 नए मरीज मिले हैं, जबकि मृतकों की संख्या केवल 60 रही. महाराष्ट्र में मृतकों की संख्या 46,573 हो गई है. 16 लाख 47 हजार 004 मरीज ठीक हुए हैं. कुल मरीजों की संख्या 17 लाख 74 हजार 445 है.