corona

  • 70 मरीजों की हुई मौत

मुंबई. राज्य में रविवार को कोरोना (corona) 3717 नए मरीज मिले हैं, जबकि दिन भर में 70 मरीजों की मौत हुई है। राज्य में रविवार को  3861  मरीज ठीक हुए हैं। अब कोरोना को मात देकर स्वस्थ्य होने वाले मरीजों की संख्या 17 लाख 57 हजार 883 हो गई है। कोरोना के कुल  मरीजों की संख्या बढ़ कर 18 लाख 80 हजार 416  हो गई है। राज्य में मृतकों की संख्या 48,209 हो गई है। मुंबई में 606 नए मरीज मिले हैं। कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 2 लाख 90 हजार 629  हो गई है। 2 लाख 66 हजार 162  मरीज ठीक हुए हैं। मुंबई में रविवार को सक्रिय मरीजों की संख्या 12,654 रह गई है.

युवाओं पर कम हो रहा कोरोना का प्रभाव  

मुंबई में मिले अब तक कोरोना मरीजों के बारे में  पता चला है कि युवाओं पर कोरोना का प्रभाव कम हो रहा है। मुंबई में होने वाली कुल मौत में युवाओं की संख्या बहुत कम है। 11 नवंबर से 12 दिसंबर के बीच कोरोना से हुई मौत में सिर्फ 0.45 प्रतिशत युवाओं की मौत हुई। जबकि कुछ समय पहले युवाओं की डेथ रेट 2.5 प्रतिशत थी। सबसे बड़ी राहत की बात यह है कि सीनियर सिटीजन की डेथ रेट में भी इन दौरान कमी आई है। एक महीने के भीतर सीनियर सिटीजन की डेथ रेट 4.4 प्रतिशत रही है, जो पहले 11 प्रतिशत थी। नब्बे साल से ऊपर वालों की डेथ रेट अब भी चिंता का विषय बनी हुई है। हालांकि उनके संक्रमित होने की संख्या बेहद कम है.

बीएमसी की उप स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दक्षा शाह ने बताया कि युवाओं में रोग प्रतिरोधक क्षमता अधिक होने से वे जल्द स्वस्थ्य हो जाते हैं। उन पर कोरोना का असर भी कम होता है। मुंबई में 11 नवंबर से 12 दिसंबर के बीच 469 लोगों की कोरोना से डेथ हुई है। मरने वालों में 50 की उम्र 49 वर्ष से कम थी। जबकि 50 वर्ष से अधिक उम्र के मरनेवालों की संख्या 419 थी। मुंबई में 12 दिसंबर तक कोरोना से 10969 लोगों की मौत हुई थी। उसमें 50 वर्ष से कम उम्र के लोगों की संख्या 1556 है, जो कि अब तक कोरोना से हुई कुल मौत का 14.18 प्रतिशत है। वहीं ज्यादातर वरिष्ठ  नागरिक कोरोना के अलावा अन्य कई बीमारियों से ग्रस्त होते हैं, जिससे उनकी डेथ रेट थोड़ी ज्यादा है। बीएमसी ने अस्पताल में सीनियर सिटीजन के इलाज की विशेष व्यवस्था की है, इसके सकारात्मक परिणाम भी सामने आए हैं.