Adulterated milk making gang busted, 2 people arrested

    मुंबई. मुंबई पुलिस (Mumbai Police) की क्राइम ब्रांच यूनिट-10 (Crime Branch Unit-10) ने अंधेरी के वर्सोवा (Versova) इलाके में पैकेट के दूध में मिलावट करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ कर दो लोगों को गिरफ्तार (Arrested) किया है। ये दो नामी कंपनी गोकुल और अमूल के पैकेट वाले दूध में शुद्ध दूध निकालकर उसमें मिलावटी दूध मिलाते थे और इस दूध को होटल्स, रेस्टोरेंट और चाय आदि की दुकान पर सप्लाई करते थे। इनके पास से ब्रांडेड कंपनी के करीब 294 लीटर मिलावटी दूध भी जब्त हुआ है।

    क्राइम ब्रांच यूनिट-10 के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक किरण लोंढे ने बताया की सहायक पुलिस निरीक्षक धनराज चौधरी को एक गुप्त सूचना मिली थी की अंधेरी के वर्सोवा इलाके में मिलावटी दूध बनाने और बेचने का कारोबार चल रहा है। इस खबर के मिलते ही पुलिस उपायुक्त अकबर पठान और सहायक पुलिस आयुक्त सिद्धार्थ शिंदे के मार्गदर्शन में हमने एक टीम बनाई जिसमें सहायक पुलिस निरीक्षक धनराज चौधरी आदि शामिल थे और इस टीम ने  सूचना के आधार पर वर्सोवा चार बंगलों के भारत नगर को.हा.सो. के रूम नंबर 49 में छापा मारा तो देखा दो लोगों द्वारा कई नामचीन कंपनियों के दूध की थैलियों से दूध निकालकर पानी भरकर उनको सील बंद करने का काला कारोबार बंद कमरे में जारी था। 

    काफी दिनों से जारी था सिलसिला

    पुलिस उपायुक्त अकबर पठान ने बताया कि यह गिरोह नामचीन कंपनियों के दूध की थैलियों से दूध निकाल कर उसमें उतनी ही मात्रा में पानी मिलाकर फिर लाइटर मोमबत्ती और स्टोव की पिन के जरिए फिर उसकी सील बंद कर देते थे, जो देखने में जरा भी फर्क नहीं लगता था कि यह मिलावट की हुई दूध की थैली है। थैलियों से निकाले गए दूध को खाली थैलियों में भर कर उसे भी सील बंदी कर देते थे पानी मिलाकर, गोकुल और अमूल नामचीन कंपनियों की थैलियों से दूध निकालकर पानी भरने का सिलसिला काफी दिनों से जारी था। पुलिस ने रेड के दौरान मोमबत्ती, लाइटर, स्टोव पिन, ब्लेड और नामचीन कंपनियों में अमूल गोकुल की 36 खाली दूध की थैलियां पड़ी हुई थी, दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करके वर्सोवा पुलिस स्टेशन के हवाले कर दिया जहां उन पर वर्सोवा पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 272, 273, 482, 468, 420, 34 भादवि सहित कलम 51,63 अन्न सुरक्षा व मानवीय कायदा नुसार के तहत मामला दर्ज कर आगे की जांच में जुट गई।