लॉकडाउन में पत्री पुल का काम पूर्ण करने का लक्ष्य

– सांसद श्रीकांत शिंदे ने लिया कार्यस्थल का जायजा

मुंबई. मध्य रेलवे के प्रमुख स्टेशन कल्याण के पास पत्री पुल का काम लॉकडाउन में ही पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.महाराष्ट्र राज्य रास्ता विकास महामंडल की तरफ से बनाए जा रहे इस आरओबी का काम मई तक पूरा होना था.कोरोना के चलते देशव्यापी लॉकडाउन का असर इस कार्य पर भी पड़ा.दूसरे लॉकडाउन में कुछ शर्तों के साथ इसके काम की शुरुआत हुई. 2 अप्रैल से कुछ मजदूरो को लेकर  काम सुरु किया गया.

बुधवार को  सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे ने स्वयं कार्यस्थल पर जाकर जायजा लिया और संबंधित ठेकेदार व अधिकारी के साथ चर्चा कर कार्य की समीक्षा की. अत्यंत मुश्किल इस कार्य के लिए कुशल मजदूरों की आवश्यकता होती है.इसके लिए पश्चिम बंगाल से मजदूर लाए गए हैं.पुल के पिलर का काम हो गया है. पुल के 76 मीटर लंबे गर्डर की लॉन्चिंग के लिए आवश्यक तैयारी पूरी हो गईं है.गर्डर का काम भी हैदराबाद में पूरा हो गया है.10 दिनों में गर्डर भी आ जाएगा.

मेगाब्लॉक की परेशानी नहीं आई

सांसद डॉ शिंदे के अनुसार अगले माह से गर्डर लॉन्चिंग की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी. अगस्त के अंतिम सप्ताह तक यातायात के लिए यह पुल शुरू किए जाने की योजना है. इसी स्थान पर तीसरे पत्री पुल का निर्माण भी जुलाई से किया जाएगा. उसे भी अगले एक वर्ष में पूरा करने की योजना है. लॉकडाउन की वजह से इस मार्ग पर ट्रेन सेवा अत्यंत कम होने से मेगाब्लॉक की परेशानी नहीं आई. इस स्थान पर आरओबी से कल्याण-डोंबिवली के नागरिकों की यातायात समस्या का निदान हो जाएगा.