डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों पर हो रहे हैं हमले

  • देवेंद्र फडणवीस से मिला बीजेपी चिकित्सा प्रकोष्ठ का शिष्टमंडल

मुंबई. वैश्विक महामारी कोरोना संकट के समय भी राज्य में चिकित्सा क्षेत्र की हालत खराब है.डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले थम नहीं रहे हैं. इस तरह की अन्य दिक्कतों को लेकर भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक डॉ.अजित गोपछडे के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल ने रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री एवं विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात की.

शिष्टमंडल की तरफ से विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस को बताया गया कि राज्य में डॉक्टर्स, पैरामेडिकल, डेंटिस्ट, परिचारिका, फार्मसिस्ट, टेक्निशियन, रेडिओग्राफर और स्वास्थ्य सेवकों पर हमले हो रहे हैं. महिला चिकित्सा कर्मियों और परिचारिकाओं की सुरक्षा की व्यवस्था कोविड सेंटर में नहीं है. ऑक्सीजन की आपूर्ति सही ढंग से नहीं हो रही है.कोविड मरीजों के इलाज के दौरान कोरोना से मृत निजी डॉक्टरों को 50 लाख रुपये की बीमा रकम देने से इंकार कर दिया गया है. इसी तरह की अन्य समस्याओं पर चर्चा करते हुए उसके निदान की मांग पूर्व मुख्यमंत्री से की गयी. शिष्टमंडल में डॉ.अजित गोपछडे के अलावा डॉ स्मिता रणजीत काले ,डाॅ राहुल कुलकर्णी, डॉ.मनीषा माने, डॉ. कृष्णा वोरा, डॉ. सचिन बंडगर,डॉ. श्याम पोटदुखे सहित अन्य लोग शामिल थे.