Sandeep Deshpande

  • पुलिस अधिकारियों के तबादले पर MNS का तंज

मुंबई. देश के प्रमुख उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के घर के पास विस्फोटक से भरी स्कार्पियो गाड़ी खड़ी करने एवं स्कार्पियो के मालिक होने का दावा करने वाले व्यवसायी मनसुख हिरेन (Mansukh Hiren) की मौत मामले में पुलिस अधिकारी सचिन वझे (Sachin Vaze) की गिरफ्तारी के बाद राज्य सरकार बैकफुट पर है। सरकारी मशीनरी डैमेज कंट्रोल में जुट गयी है। जिसके तहत बड़े पुलिस अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। जिस पर प्रमुख विपक्षी दल भाजपा सहित राज ठाकरे के नेतृत्व वाली मनसे (MNS) भी सरकार पर हमलावर है। 

मनसे महासचिव संदीप देशपांडे ने ‘मिर्जापुर’ वेबसीरीज का एक वीडियो क्लीप सोशल मीडिया पर पोस्ट कर तंज कसा है। वीडियो क्लीप में डायलॉग है कि कुर्बानी देने का समय आता है तो कुर्बानी सिपाही की ही दी जाती है। राजा एवं राजकुमार गद्दी पर बैठने के लिए जिंदा रहते हैं। देशपांडे ने कहा है कि मिर्जापुर हो या महाराष्ट्र, राजनीति में प्यादे ही मरते हैं। उन्होंने कहा है कि वझे एवं परमबीर सिंह प्यादे ही हैं।

सरकार की असफलताओं को ढंकने के लिए तो कोरोना नहीं बढ़ रहा

गत दिवस संदीप देशपांडे ने कोरोना को लेकर सरकार को घेरने का प्रयास किया था। उन्होंने सवाल किया था कि महाराष्ट्र में ही कोरोना क्यों बढ़ रहा है। महाराष्ट्र से लगे गुजरात, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश एवं गोवा में कोरोना क्यों नहीं बढ़ रहा है। उन्होंने सवाल उठाया था कि सरकार की असफलताओं को ढंकने के लिए तो कोरोना नहीं बढ़ रहा है।