sharad pawar

  • बीजेपी से महा मुकाबला

मुंबई. महाराष्ट्र विधान परिषद की 5 सीटों पर हो रहे चुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए महाराष्ट्र विकास आघाड़ी सरकार के किंगमेकर और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने कमान अपने हाथों में ले ली है. इस बारे में रणनीति बनाने के लिए पवार ने एनसीपी मंत्रियों के साथ ख़ास चर्चा की है. उन्होंने चुनाव में जीत हासिल करने के लिए क्षेत्र के पालक और सम्पर्क मंत्री को जिम्मेदारी दी है. पवार ने अपने मंत्रियों से कहा है कि वे ठाकरे सरकार में शामिल तीनों दलों के बीच समन्वय स्थापित कर जीत हासिल करने में कोई कसर नहीं छोड़ें.

 सूत्रों के मुताबिक़ पवार ने साफ़ लहजे में कहा है कि इन क्षेत्रों में यदि कोई भी उलटफेर होता है तो संबंधित जिले के पालक मंत्री जिम्मेदार होंगे. विधान परिषद की 5 सीटों में औरंगाबाद, पुणे और नागपुर में स्नातक और अमरावती और पुणे में शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव हो रहे हैं. इन सभी 5 सीटों के लिए मतदान 1 दिसंबर को होगा और मतों की गिनती 3 दिसंबर को होगी.

बीजेपी से कांटे की टक्कर

विधान परिषद की 5 सीटों के चुनाव पर महाराष्ट्र विकास आघाड़ी के उम्मीदवारों का बीजेपी से कड़ा मुकाबला है. इस चुनाव को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बनाम नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस माना जा रहा है. ऐसे में ठाकरे सरकार को मजबूत बनाने के लिए पवार ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. पिछले चुनाव में नागपुर और पुणे की स्नातक सीट पर बीजेपी का कब्ज़ा था, जबकि अमरावती और पुणे की शिक्षक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार काबिज थे. औरंगाबाद स्नातक सीट एनसीपी के पास थी.

उम्मीदवारों का ब्योरा

स्नातक सीट

नागपुर

  • कांग्रेस- अभिजीत वंजारी
  • बीजेपी – संदीप जोशी 

औरंगाबाद

  • एनसीपी – सतीश चव्हाण
  • बीजेपी – शिरीष बोरालकर

पुणे   

  • एनसीपी – अरुण लाड
  • बीजेपी – संग्राम देशमुख

शिक्षक सीट

पुणे

  • कांग्रेस – जयंत आसगावकर
  • बीजेपी – जीतेन्द्र पवार

अमरावती

  • शिवसेना – श्रीकांत देशपांडे
  • बीजेपी – नितिन धांडे